scriptThe doors of employment will open for the youth - Nand Gopal Nandi | विदेशी निवेशकों का चहेता राज्य बन चुका है उत्तर प्रदेश, हजारों युवाओं के लिए खुलेगा रोजगार के द्वार- नंद गोपाल नंदी | Patrika News

विदेशी निवेशकों का चहेता राज्य बन चुका है उत्तर प्रदेश, हजारों युवाओं के लिए खुलेगा रोजगार के द्वार- नंद गोपाल नंदी

मंत्री नन्दी ने कहा कि योगी सरकार में कानून व्यवस्था से लेकर कामकाज में पारदर्शिता के चलते चाहे उद्यमियों को जमीन देने का मामला हो या तमाम विभागों से मिलने वाली एनओसी का मुद्दा, हर क्षेत्र में उद्यमियों को कई तरह की सहूलियतें दी जा रहीं हैं। इससे उद्यमियों में यह संदेश गया कि उत्तर प्रदेश निवेश करने के लिए बेस्ट डेस्टिनेशन है।

इलाहाबाद

Published: May 30, 2022 10:43:09 pm

प्रयागराज: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में उत्तम प्रदेश से सर्वोत्तम प्रदेश बनने की ओर अग्रसर उत्तर प्रदेश आज औद्योगिक निवेश को बढ़ावा देने के लिए उठाए जा रहे कदमों के चलते देश ही नहीं, बल्कि विदेशी निवेशकों का चहेता राज्य बन चुका है। जिसकी वजह से बड़ी संख्या में विदेशी निवेशक कम्पनियां उत्तर प्रदेश में आ रही हैं और निवेश करने जा रही हैं। उत्तर प्रदेश के नोएडा के साथ ही अन्य जनपदों में जल्द ही करीब साढ़े सात हजार करोड़ रूपए की विदेशी परियोजनाएं जमीन पर उतरने जा रही हैं, जो प्रदेश में हजारों युवाओं के लिए रोजगार के द्वार खोलेंगी।
विदेशी निवेशकों का चहेता राज्य बन चुका है उत्तर प्रदेश, हजारों युवाओं के लिए खुलेगा रोजगार के द्वार-  नंद गोपाल नंदी
विदेशी निवेशकों का चहेता राज्य बन चुका है उत्तर प्रदेश, हजारों युवाओं के लिए खुलेगा रोजगार के द्वार- नंद गोपाल नंदी
तीन जून को लखनऊ में आयोजित होने वाले ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी-3 को भव्य से भव्यतम बनाने के लिए चल रही तैयारी की अगुवाई कर रहे एवं एक-एक बिन्दु की स्वयं गहन निगरानी एवं समीक्षा कर रहे उत्तर प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जापान, कनाडा, जर्मनी, हांगकांग, सिंगापूर, यूके, यूएस और कोरिया की कम्पनियां साढ़े सात हजार करोड़ रूपये का विदेशी निवेश उत्तर प्रदेश में करने जा रही है।
मंत्री नन्दी ने कहा कि योगी सरकार में कानून व्यवस्था से लेकर कामकाज में पारदर्शिता के चलते चाहे उद्यमियों को जमीन देने का मामला हो या तमाम विभागों से मिलने वाली एनओसी का मुद्दा, हर क्षेत्र में उद्यमियों को कई तरह की सहूलियतें दी जा रहीं हैं. इससे उद्यमियों में यह संदेश गया कि उत्तर प्रदेश निवेश करने के लिए बेस्ट डेस्टिनेशन है। ऐसे में विदेशी निवेशक भी उत्तर प्रदेश में निवेश करने में रुचि दिखाते हुए निवेष कर रहे हैं। जिसकी वजह से ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भी उत्तर प्रदेश ने ऊंची छलांग लगाई है। उत्तर प्रदेश प्रत्यक्ष विदेशी निवेश लाने के मामले में देश में 11वें स्थान पर होने के साथ ही देश के टॉप 5 राज्यों में शामिल होने की ओर अग्रसर है।

मंत्री नन्दी ने बताया कि अमेरिका का एमक्यू साॅफ्टवेयर गौतमबुद्धनगर नोएडा में 252 करोड़ रूपये का निवेश कर रहा है। माइक्रोसाॅफ्ट कम्पनी द्वारा गौतमबुद्धनगर में साॅफ्टवेयर डेवलपमेंट परियोजना की स्थापना के लिए 1800 करोड़ रूपये का निवेश किया जा रहा है।
वहीं यूनाइटेड किंगडम की एसोसिएटेड ब्रिटिश फूड्स (एबी मौरी) द्वारा पीलीभीत में खमीर उत्पादन परियोजना की स्थापना के लिए 1100 करोड़ रूप्ये का निवेश किया जा रहा है।

मंत्री नन्दी ने बताया कि फुटवियर निर्माण परियोजना की स्थापना के लिए जर्मनी की वान वेलेक्स कम्पनी आगरा में 300 करोड़ रूपए का निवेश कर रही है। वहीं दक्षिण कोरिया की कम्पनी समकवांग द्वारा नोएडा में 300 करोड़ रूपए का निवेश किया जा रहा है। ड्रीमटेक इलेक्ट्रानिक्स द्वारा 265 करोड़ रूपये का निवेश, स्टारियन द्वारा गौतमबुद्ध नगर में इलेक्ट्रानिक्स विनिर्माण परियोजना की स्थापना के लिए 400 करोड़ रूपए का निवेश किया जा रहा है। सिंगापुर की एस टीटी, जीडीसी कम्पनी द्वारा गौतमबुद्धनगर में डेटा सेंटर स्थापित करने के लिए 900 करोड़ रूपए का निवेश किया जा रहा है।
यह भी पढ़ें

बाहुबली अतीक अहमद की शान में शायरी पढ़ते ही चर्चा में आए इमरान, अब बने राज्यसभा उम्मीदवार, जानें सियासी सफर

मंत्री नन्दी ने बताया कि जापान की ही एनटीटी नेट मैजिक द्वारा गौतमबुद्धनगर में डेटा सेंटर स्थापित करने के लिए 1500 करोड़ रूपए का निवेश किया जा रहा है। एलाइड निप्पान द्वारा गौतमबुद्धनगर में आटो कम्पोनेंट्स निर्माण परियोजना की स्थापना के लिए 240 करोड़ रूपए का निवेष किया जा रहा है। वहीं फ्रांस की एयर लिक्विड कम्पनी द्वारा मथुरा में एयर सेपेरेशन-आक्सीजन उत्पादन परियोजना की स्थापना के लिए लगभग 350 करोड़ रूपए का निवेश किया जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Rakesh Jhunjhunwala Net Worth: परिवार के लिए इतने पैसे छोड़ गए राकेश झुनझुनवाला, एक दिन में कमाए थे 1061 करोड़पिता ने नहीं दिए पैसे, फिर भी मात्र 5000 के निवेश से कैसे शेयर बाजार के किंग बने राकेश झुनझुनवालाRakesh Jhunjhunwala: PM मोदी और अमित शाह समेत कई बड़े दिग्गजों ने झुनझुनवाला को दी श्रद्धांजलिRajasthan: तीसरी कक्षा के दलित छात्र को निजी स्कूल के शिक्षक ने पानी का कंटेनर छूने को लेकर पीटा, मौत के बाद तनाव, इंटरनेट सेवा बंदVinayak Mete Passes Away: विनायक मेटे का सड़क हादसे में निधन, सीएम एकनाथ शिंदे और शरद पवार सहित अन्य नेताओं ने जताया शोकRakesh Jhunjhunwala Rajasthan connection: राजस्थान के झुंझुनूं जिले से जुड़ी है राकेश झुनझुनवाला की जड़ेJ-K: स्वतंत्रता दिवस से पहले आतंकियों का ग्रेनेड से हमला, कुलगाम में पुलिसकर्मी शहीदIndependence Day 2022: क्रिकेट के वो खास पल, जिन्होंने फैन्स को रोने पर कर दिया मजबूर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.