EXCLUSIVE: बाहुबली अतीक अहमद के करीबी की जेल से वायरल हो रही तस्वीर ,मचा हडकम्प ...

EXCLUSIVE:  बाहुबली अतीक अहमद के करीबी की जेल से वायरल हो रही तस्वीर ,मचा हडकम्प ...

Prasoon Kumar Pandey | Publish: Feb, 03 2018 11:32:21 PM (IST) Allahabad, Uttar Pradesh, India

पुलिस मुडभेड में पकड़ा गया था शातिर अपराधी ,इसके नाम से डरते है लोग

इलाहाबाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूबे में उन्ही के दावे फेल होते दिख रहे है । सूबे के अधिकारी उनका आदेश नही मान रहे है । सीएम योगी का दावा की उत्तर प्रदेश में कानून का राज स्थापित होगा ।अपने मंचो से अपराधियों को प्रदेश छोड़ देने की हिदायत देने वाली योगी आदित्यनाथ के अफसर अपराधियों और बाहुबलियों की आवभगत कर रहे है ।अपराधी प्रवृत्ति के लोगों के सलाखों के पीछे होने के बावजूद भी उनको घर जैसे आराम दिए जा रहे हैं ।

नैनी जेल में बंद एक शातिर अपराधी की तस्वीर वायरल हुई है। जिसके बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है। और यह अपराधी कोई और नहीं बल्कि बाहुबली सांसद अतीक अहमद का दाहिना हाथ जुल्फिकार अली उर्फ तोता है । हालाकि पत्रिका से जेल प्रशासन ने किसी भी तरह की फोटो वायरल होने की बात को गलत बताया है । और जेल अधीक्षक ने कहा कि मामला संज्ञान में आया। तो उसकी जांच की जाएगी ।

बता दें कि नैनी जेल की बिल्डिंग में बैठे हुए एक शख्स की फोटो वायरल हो रही है । जिस में बैठा हुआ शख्स अपराधी जुल्फिकार अली उर्फ तोता है । जेल परिसर में बनी नई बिल्डिंग साफ तौर से दिख रही है । जिसमें आराम से बैठकर मोबाइल फोन से जुल्फिकार बात करता हुआ देखा जा रहा है । जेल परिसर में बात करते हुए ,इस तस्वीर को किसने कैद इस बात की तो कोई जानकारी नहीं है । लेकिन यह तस्वीर तेजी से वायरल सोशल साइट पर हो रही है ।

जानकारी के अनुसार कई अन्य शातिर अपराधी जो इस वक्त सलाखों के पीछे हैं । वह सब अंदर से ही मोबाइल से सोशल साइट पर एक्टिव है । जो तस्वीर सामने आई है उससे एक बार फिर योगी सरकार के अधिकारियों की पोल खुली है।गौरतलब है कि जेल में बंद शातिर अपराधी जुल्फिकार अली उर्फ तोता को क्राइम ब्रांच ने बीते दिनों मुठभेड़ में गिरफ्तार किया था । जिसमें जुल्फिकार अली बुरी तरीके से घायल हो गया था । सवाल यह है कि इतने शातिर अपराधी के पास फोन कैसे पहुंचा । और दूसरा यह कि जेल के अंदर फोन लेकर कौन ले गया,जिसने इस फोटो को वायरल किया है । बता दें कि जुल्फिकार अली प्रदेश में बहुचर्चित मरिया डीह हत्या काण्ड का आरोपी है । तोता पर इस बात का भी आरोप है कि उसी ने जेल से साजिश रच के कुछ दिनों पहले चकिया के रवि पासी की हत्या कराई थी।

किसी भी जेल में फोन का इस्तेमाल प्रतिबंधित है । इसके बावजूद भी जेल में बंद शातिर अपराधी के पास फोन कैसे पहुंचा । यह गंभीर मामला सामने आया है । जानकारी के अनुसार रात होते ही जेल में बंद कई बड़े शातिर अपराधी और अन्य आरोपित सामान्य तरीके से फोन पर बात कर लेते हैं । हलाकि जेल अधीक्षक केदार यादव के मुताबिक जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि सच्चाई क्या है ।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned