कुंभ मेले में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के दो हजार वॉलिंटियर्स करेंगे श्रद्धालुओं की मदद

कुंभ मेले में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के दो हजार वॉलिंटियर्स करेंगे श्रद्धालुओं की मदद
ncc

Prasoon Kumar Pandey | Publish: Dec, 08 2018 01:13:32 PM (IST) Allahabad, Allahabad, Uttar Pradesh, India

एनएसएस और एनसीसी के कैडेट्स को मेले में तैनात करने के लिए अधिकारियों ने किया संपर्क

 

प्रयागराज:आगामी कुंभ मेले को आकर्षित और सुरक्षित बनाने में जुटा मेला प्रशासन पूरब के एक्सपोर्ट के छात्रों का भी सहयोग ले रहा है। इलाहाबाद विश्वविद्यालय सहित अन्य महाविद्यालयों से छात्रों को कुंभ मेला में वॉलिंटियर्स के तौर पर उतारने की तैयारी है।यह वालंटियर इलाहाबाद विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना और एनसीसी के होंगे। इन वॉलिंटियर्स के जिम्में पर देश विदेश से आने वाले मेहमान होंगे। जिसके लिए इलाहाबाद विश्वविद्यालय में चयन प्रक्रिया शुरू हो गई है।

कुंभ मेले में देश और दुनिया के करोड़ों श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है इन श्रद्धालुओं को मेले में किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े इसके लिए अलग- अलग विश्वविद्यालयों स्कूलों और कॉलेजों के विद्यार्थियों को वैलेंटियर के रूप में उतारने की तैयारी की जा रही है। इसमें राष्ट्रीय सेवा योजना और नेशनल कैडेट कोर के वैलेंटियार शामिल होंगे। मेला अधिकारी विजय किरण आनंद ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार को पत्र लिखकर वैलेंटियर्स के चयन लिए कहा है।

एनएसएस और एनसीसी के कैडेट्स होंगे

जिसके लिए इलाहाबाद विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार एन के शुक्ला ने विश्वविद्यालय प्रशासन के साथ बैठक कर मेले में कैडेट्स के चयन प्रक्रिया पर पूरा खाका तैयार किया है।साथ ही विश्वविद्यालय से संबंधित महाविद्यालय और राष्ट्रीय सेवा योजना और एनसीसी कैडेट्स कोर के कैंडिडेट के लिए इंटर कॉलेजों में भी संपर्क स्थापित किया है। रजिस्ट्रार एन के शुक्ला ने बताया कि कालेजों और महाविद्यालयों से इच्छुक विद्यार्थियों का नाम मांगा गया है। जो कुंभ में सेवा देने के लिए तैयार हों।उन सब की चयन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। मेला में विश्वविद्यालय द्वारा 2000 वॉलिंटियर्स की तैनाती की जाएगी।

विदेशी मेहमानों की करेंगे मदद

इलाहाबाद विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक मंजू सिंह ने बताया कि कुंभ मेले के लिए दो हजार वैलिंटियर्स के चयन की प्रक्रिया चल रही है। जिसमें संगठक महाविद्यालय के छात्र भी शामिल किए जा रहे है। इनमें से कुछ छात्रों का चयन विदेश से आने वाले अतिथियों की सहायता और सेवा के लिए किया जा रहा है।

सबको मिलेगा आईकार्ड

कुंभ मेले में तैनात किए जाने वाले वॉलिंटियर्स को सेवा मित्र के नाम से जाना जाएगा। कुंभ मेला अधिकारी द्वारा इन चयनित छात्रों को एक आईकार्ड भी जारी किया जाएगा। ताकि मेले के अंदर उनकी पहचान आसानी से हो सके। डॉ मंजू सिंह ने बताया कि हमने अपने वालंटियर को आपदा प्रबंधन, स्वच्छता जागरूकता भीड़ प्रबंधन के बारे में प्रशिक्षित किया है। साथ ही मेले में आने वाले किसी भी श्रद्धालु को कोई भी जरूरत हो तो वह हमारे वैलिंटियर्स से संपर्क कर सकते हैं। उनकी मदद के लिए उचित स्थान पर पहुंचाएंगे। और उन्हें किसी भी तरह की समस्या नहीं होने दी जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned