यूपी को मिले 580 नए सहायक अभियंता, यूपीपीएससी ने जारी किया चयन रिजल्ट

- सुयोग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण 68 पद रह गए खाली
- परीक्षा परिणाम आयोग की वेबसाइट और सूचना बोर्ड पर उपलब्ध

By: Neeraj Patel

Published: 27 Mar 2021, 09:22 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
प्रयागराज. उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने सम्मिलित राज्य अभियंत्रण सेवा परीक्षा-2019 का अंतिम चयन परिणाम जारी कर दिया। अब यूपी के विभिन्न सरकार विभागों को 580 नए सहायक अभियंता मिल गए हैं। सम्मिलित राज्य अभियंत्रण सेवा परीक्षा सहायक अभियंता के 648 पदों पर भर्ती के लिए आयोजित की गई थी, जिसमें सामान्य चयन के 627 एवं विशेष चयन के 21 पद शामलि थे। हालांकि, सुयोग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण 68 पद खाली रह गए। परीक्षा परिणाम आयोग की वेबसाइट और सूचना बोर्ड पर उपलब्ध करा दी गई है।

सम्मिलित राज्य अभियंत्रण सेवा-2019 की लिखित परीक्षा 13 दिसंबर 2020 को प्रदेश के पांच जिलों प्रयागराज, लखनऊ, गोरखपुर, गाजियाबाद और आगरा के विभिन्न केंद्रों में आयोजित की गई थी। परीक्षा के लिए एक लाख 37 हजार 605 अभ्यर्थी पंजीकृत थे, जिनमें से 41 फीसदी अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। लिखित परीक्षा का परिणाम इस साल पांच फरवरी को घोषित किया गया था, जिसके आधार पर साक्षात्कार में शामिल होने के लिए 1284 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया गया था। साक्षात्कार 22 फरवरी से छह मार्च तक आयोजित किए गए थे। आयोग के सचिव जगदीश के अनुसार अंतिम चयन परिणाम में 580 अभ्यर्थी सफल घोषित किए गए हैं।

सचिव के मुताबिक उत्तर प्रदेश से बाहर की महिला अभ्यर्थियों का परिणाम उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से दाखिल विशेष अपील पर न्यायालय द्वारा पारित किए जाने वाले अंतिम निर्णय के अधीन रहेगा। परीक्षा से संबंधित पदवार/श्रेणीवार कटऑफ अंक एवं अभ्यर्थियों के प्राप्तांक शीघ्र ही वेबसाइट पर जारी किए जाएंगे। फिलहाल सुयोग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण भूमि संरक्षण अधिकारी, सिंचाई एवं जल संसाधन विकास विभाग के 21 पद, सहायक अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) आवास एवं शहरी नियोजना के चार, सहायक अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) नगर विकास विभाग के दो, सहायक अभियंता (जल)/बी श्रेणी जलकर अभियंता, नगर विकास विभाग के 15, सहायक निदेशक कारखाना, श्रम विभाग के छह, सहायक अभियंता (जल)/बी श्रेणी जलकल अभियंता, नगर विकास विभाग (विशेष चयन) के 17, सहायक अभियंता (सिविल), मंडी परिषद (विशेष चयन) के तीन पद खाली रह गए हैं।

इन विभागों में हुआ चयन

सिंचाई विभाग (सिविल इंजीनियरिंग शाखा) में सहायक अभियंता के 171 पदों, लघु सिंचाई विभाग (सिविल इंजीनियरिंग) में चार पदों, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग (सिविल इंजीनियरिंग) में 57 पदों, लोक निर्माण विभाग (सिविल इंजीनियरिंग) में 108 पदों, आवास एवं शहरी नियोजना विभाग (सिविल इंजीनियरिंग) में 26 पदों, शहरी विकास विभाग (सिविल इंजीनियरिंग) में 24 पदों, सिंचाई विभाग (मैकेनिक इंजीनियंरिंग) में 37 पदों, बिजली विभाग (ईएलई. सिक्योरिटी शाखा) में सहायक निदेशक के 21 पदों, लघु सिंचाई (एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग) में सहायक अभियंता के नौ पदों, कृषि विभाग में यूपी एग्रीकल्चर सर्विसेज ग्रेड-2 के 12 पदों, सिंचाई एवं जल संसाधन विकास विभाग में भूमि संरक्षण अधिकारी के 10 पदों, लोक निर्माण विभाग में (इलेक्ट्रिकल/मैकेनिकल इंजीनियरिंग) में सहायक अभियंता के 46 पदों, आवास एवं शहरी नियोजन विभाग (इलेक्ट्रिकल/मैकेनिकल) इंजीनियरिंग में सहायक अभियंता के 21 पदों पर चयन किया गया है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned