राजस्थान, गुजरात में विरोध, यूपी में योगी सरकार का एलान देगी पद्मावती को सुरक्षा

यूपी में योगी सरकार देगी पद्मावती को सुरक्षा

By: प्रसून पांडे

Published: 12 Nov 2017, 01:31 AM IST

इलाहाबाद संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावती को लेकर हो रहे एविरोध के बीच फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार ने राहत भरी खबर दी है।भंसाली की बहुचर्चित फिल्म पद्मावती को लेकर राजपूत करणी सेना से लेकर क्षत्रिय समाज के लोग देश भर के अलग अलग हिस्सों में विरोध कर रहे है।और रिलीज ना होने देने की धमकियां दे रहे हैं। लगातार बढ़ रहे विरोध का कारण यह है की राजपुताना शान के खिलाफ फिल्म में रानी पद्मिनी को दर्शाने का आरोप लग रहा है।फिल्म पद्मावती शूटिंग के समय ही विवाद के चलते देश भर में विरोध प्रदर्शन हुए थे। और फिल विवादों में आयी थी।

फिल्म के निर्माता निर्देशक और स्टार कास्ट सहित फिल्म की शूटिंग में लगी पूरी टीम के लिए यूपी सरकार ने बड़ी राहत देते हुए कहा की संजय लीला भंसाली की फिल्म पदमावती को पूरी सुरक्षा मुहैया कराएगी। यूपी सरकार किसी भी तरह की रुकावट नहीं पैदा होने देगी। सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक लगाने से इंकार के बाद सरकार सुरक्षा को लेकर कड़े कदम उठाएगी। कुछ लोग भावनाओं की वजह से फिल्म का विरोध कर रहे हैंए लेकिन सरकार भावनाओं से नहीं संविधान के हिसाब से काम करती है।

बता दें की संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती पर राजपूत करणी सेना ने यह आरोप लगाया है एकि राजपुताना इतिहास पर आधारित फिल्म में रानी पद्मावती के जीवन को गलत तरीके से दिखाया जा रहा है।और साथ ही राजपूताना के ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की जा रही है। करणी सेना ने शूटिंग के दौरान जयपुर में पद्मावती के सेट सेट पर तोड़फोड़ की थी। इस दौरान भंसाली के साथ मार पीट का भी मामला सामने आया था।जबकि फिल्म पद्मावती को लेकर हो रहे विवादों में खुद निर्माता निर्देशक संजय लीला भंसाली सफाई देते हुए कह चुके हैं। कि इस फिल्म में राजपूत रानी पद्मावती का पूरा सम्मान का ख्याल रखा गया है।और वह पद्मावती की कहानी से प्रभावित होकर उन पर फिल्म बनाये है।

विरोध कर रही करणी सेना सहित संगठनों का कहना है।कि पद्मावती को फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी के साथ ड्रीम सीक्वेंस में दर्शाया गया है। जबकि भंसाली ने पहले भी कहा है कि फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी के साथ किसी भी तरीके की ऐसे सीन को नहीं दर्शाया गया है। जिससे राजपूत मान सम्मान को ठेस पंहुचे। ऐसे में यूपी सरकार के प्रवक्ता और स्वास्थ मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा की संजय लीला भंसाली की फिल्म की रिलीज के बाद पूरी सुरक्षा प्रदेश भर के थियेटरो में मिलेगी।वही शूटिंग के दौरान से चल रहे विरोध को अब तक करणी सेना जारी रखे हुए है। जहाँ एक तरफ यूपी सरकार सुरक्षा देने की बात ख रही है तो वही दुसरे भाजपा शासित राज्य गुजरात और राजस्थान में इसका विरोध हो रहा है।

इस मामले में राजपुताना के आलावा राजनितिक हस्तियों ने भी अपनी अपनी राय रखी जिसमे भाजपा की पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने इस मुद्दे पर ट्वीट करते हुए लिखा था की एरानी पद्मावती के विषय पर मैं तटस्थ नही रह सकती। मेरा निवेदन है कि पद्मावती को राजपूत समाज से न जोड़कर भारतीय नारी के अस्मिता से जोड़ा जाए। वही खुद भाजपा नेता जयपुर के पूर्व राजघराने की दीया कुमारी ने ऐतिहासिक तथ्यों को गलत ढंग से पेश किए जाने को लेकर अपना विरोध दर्ज करवाते हुए कहा है की तथ्यों को गलत ढंग से दिखाया गया तो वे खुलकर विरोध करेंगी।

विवादों और विरोध के बीच मामला अदालत की चौखट तक गया ।पद्मावती की फिल्म में स्टार कास्ट के तौर पर दीपिका पादुकोण रणवीर सिंह शाहिद कपूर अदिति राव हैदरी अहम भूमिका में हैं। इस फिल्म को देशभर में 1 दिसंबर को रिलीज़ होना है। इसके बावजूद करणी सेना अभी भी अपने विरोध को खत्म नहीं कर रही है जबकि भंसाली की तरफ से लिखित प्रमाण पत्र भी दिया जा चुका है। कि वह इस फिल्म में राजपूताना सम्मान का पूरा ख्याल रखते हुए पर्दे पर ला रहे हैं। जिसमें किसी भी तरीके का कोई विवाद नहीं है।संजय लीला भंसाली राजपुताना राजघराने से पहले महाराष्ट्र से देश भर में गए पेशवा की कहानी सिल्वर स्क्रीन पर लाकर बाजी राव मस्तानी के जरिये इतिहास से रूबरू कराया है।

Deepika Padukone latest news
Show More
प्रसून पांडे
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned