scriptWeather will change again in UP western disturbance will bring rain wi | यूपी में फिर करवट लेगा मौसम, पश्चिमी विक्षोभ लाएगा गरज-चमक के साथ बारिश | Patrika News

यूपी में फिर करवट लेगा मौसम, पश्चिमी विक्षोभ लाएगा गरज-चमक के साथ बारिश

locationप्रयागराजPublished: Jan 31, 2024 11:21:12 am

Submitted by:

Vikash Singh

यूपी में करीब एक महीने तक भीषण ठंड के बाद पिछले कुछ दिनों से दिन में धूप निकलने से राहत मिल रही है। यह राहत आज यानी बुधवार से खत्म हो सकती है। मौसम का मिजाज फिर से तेजी से बदलने वाला है। अब बारिश का बदला हुआ रूप देखने को मिलेगा।

,
,Weather alert: राजस्थान में कल से होगी बारिश, इन इलाकों में बरसेंगे बादल
उत्तर प्रदेश में मौसम का मिजाज एक बार फिर तेजी से बदलने वाला है। कई दिनों से धूप निकलने से मिल रही राहत खत्म हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार 31 जनवरी से उत्तर प्रदेश का मौसम तेजी से करवट लेगा। बदली-बारिश का सिलसिला शुक्रवार से शुरू होगा जो रुक-रुक कर अलग-अलग जगहों पर 4 फरवरी तक जारी रह सकता है।
सोमवार की रात यूपी में सबसे कम तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस गोरखपुर में दर्ज किया गया। आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार 31 जनवरी को पश्चिमी यूपी में कुछ स्थानों पर और पूर्वी यूपी में एक या दो स्थानों पर बारिश होने या गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं। पश्चिमी यूपी में अलग-अलग जगहों पर 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा भी चल सकती है। पूर्वांचल में एक या दो जगहों पर घना कोहरा छाया रहने के भी आसार हैं।

गुरुवार यानी पहली फरवरी को पश्चिमी यूपी में कुछ जगहों पर और पूर्वांचल में एक या दो स्थानों पर बारिश होने या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की सम्भावना है।

3 फरवरी से यूपी में जारी रह सकती है बारिश
3 फरवरी को पश्चिमी यूपी में बारिश का सिलसिला जारी रह सकता है। 4 फरवरी को पूरे यूपी में एक या दो स्थानों पर बारिश हो सकती है या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। मौसम में यह बदलाव पश्चिमी विक्षोभ की वजह से आएगा।

स्काईमेट वेदर के अनुसार पहाड़ों पर पश्चिमी विक्षोभ के चलते मैदानों में हवाओं का रुख बदलने से रात के तापमान में बढ़ोतरी हो सकती है। जल्द ही रात में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस तक भी पहुंच सकता हैं। इससे रात में सर्दी का असर कम हो सकता है, लेकिन दिन में बादल छाने और धूप नहीं निकलने से सर्द से अत्यधिक सर्द दिन की स्थितियां बनी रह सकती हैं। 31 जनवरी की रात और एक फरवरी की सुबह से संभावित बारिश से तापमान में गिरावट होगी।

31 जनवरी से चार फरवरी तक बारिश एवं ओलावृष्टि का सबसे ज्यादा असर मुजफ्फरनगर, सहारनपुर एवं बिजनौर में रह सकता है। पांच फरवरी के बाद मैदानों में उत्तर-पश्चिमी बर्फीली हवाएं कंपाना शुरू करेंगी। पांच के बाद फिर से कड़ाके की सर्दी का दौर शुरू होगा।

ट्रेंडिंग वीडियो