165 कर्मचारी छोड़ेंगे बीएसएनएल का साथ

लगातार घाटे में जाने से नहीं मिल रहा समय पर वेतन: कर्मचारियों ने लिया वीआरएस

By: Pradeep

Published: 03 Jan 2020, 02:18 AM IST

अलवर. भारत संचार निगम लिमिटेड के कर्मचारियों को संस्थान के लगातार घाटे में जाने से समय पर वेतन तक नहीं मिलने से परेशान होकर स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ( वीआरएस) लेने के लिए आगे आ रहे हैं। अलवर जिले में १६५ कर्मचारियों ने वीआरएस ले लिया है।
अलवर जिले के १६५ बीएसएनएल कर्मचारियों ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना में अपनी स्वीकृति दी है। यह कर्मचारी सभी ग्रेड के है जिनकी उम्र ५० वर्ष से अधिक है। अलवर जिले में भारत संचार निगम के कुल ३११ कर्मचारी हैं जिनमें से आधे से अधिक कर्मचारियों ने वीआरएस में प्रार्थना पत्र दिया है जिसे स्वीकार कर लिया गया है। बीएसएनएल के सहायक महाप्रबंधक आर. सी. मीणा कहते हैं कि वीआरएस लेने में किसी कर्मचारी पर दवाब नहीं डाला गया है। इसे कर्मचारियों ने स्वैच्छा से लिया है। यह योजना अभी जनवरी माह के अंत तक चलेगी। बीएसएनल के लगातार घाटे में जाने के कारण इसके कर्मचारियों को कई साल से वेतन ही समय पर नहीं मिल रहा है। इसके चलते कर्मचारियों को अपनी नौकरी के भविष्य को लेकर आशाकाएं घिर गई थी। एेसे में सरकार की इस स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के प्रति कर्मचारियों का रुझान बढ़ रहा है।
देश भर में बीएसएनएल के एक लाख ५ हजार कर्मचारी ही रह गए हैं जिनमें से ७० हजार ने इस योजना में आवेदन किया है। निगम ने ७७ हजार कर्मचारियों के वीआरएस में शामिल करने का लक्ष्य रखा है, इसको देखते हुए इस योजना की तिथि दिसम्बर से बढ़ाकर ३१ जनवरी तक बढ़ा दी है। निगम के अधिकारियों का कहना है कि यदि इतनी संख्या में कर्मचारी वीआरएस लेते हैं तो वेतन मद में ७ हजार करोड़ रुपए की प्रतिमाह बचत होगी। बीएसएनएल स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना-2019 के अनुसार 50 साल की आयु पूरी कर चुके या उससे अधिक उम्र के बीएसएनएल के सभी नियमित और स्थायी कर्मचारी वीआरएस के लिए आवेदन देने को पात्र हैं। इसमें वे कर्मचारी भी शामिल हैं जो बीएसएनएल के बाहर दूसरे संगठन में प्रतिनियुक्ति आधार पर काम कर रहे हैं। पात्र कर्मचारी के लिये अनुग्रह राशि पूरे किये गये प्रत्येक सेवा वर्ष के एवज में 35 दिन तथा बची हुई सेवा अवधि के लिये 25 दिन के वेतन के बराबर होगी।

Pradeep Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned