ये कैसी ममता: 9 माह कोख में रखा, एक साल पाला-पोसा और मरते ही कचरे में फेंक गए रानी को

ये कैसी ममता: 9 माह कोख में रखा, एक साल पाला-पोसा और मरते ही कचरे में फेंक गए रानी को

kamlesh sharma | Updated: 14 Jul 2019, 03:11:45 PM (IST) Alwar, Alwar, Rajasthan, India

मानवीय संवेदनाओं को झकझोर देने वाला समाज का भयानक चेहरा देखने को मिला। जिस बच्ची को मां ने नौ माह अपनी कोख में रखा।

अलवर। मानवीय संवेदनाओं को झकझोर देने वाला समाज का भयानक चेहरा देखने को मिला। जिस बच्ची को मां ने नौ माह अपनी कोख में रखा। पिता ने एक साल तक गोद में खिलाया। मौत के बाद दोनों उसे कचरे के ढेर में फेंक गए।

कोतवाली थाना पुलिस ने बताया कि शनिवार को पुलिस कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि जिला पुलिस अधीक्षक आवास के समीप कचरे के ढेर के पास एक बच्ची मृत पड़ी हुई है। घटना की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और बच्ची के शव को बरामद कर सामान्य अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। बच्ची के हाथ में कैनूला लगा हुआ था।

Bharatpur hit and run case: चालक बोला- उसे कुछ दिखाई नहीं दिया, केवल कट-कट-कट की आवाज आई

जिसके कारण पुलिस ने आसपास के शिशु अस्पतालों में बच्ची के बारे में पड़ताल शुरू की। पुलिस पड़ताल में बच्ची की पहचान एक वर्षीय रानी पुत्री शेरसिंह व मां का नाम सोनू निवासी जैन मंदिर तिजारा के समीप के रूप में हुई।

बच्ची को तिजारा सीएचसी से शुक्रवार रात अचेत अवस्था में रैफर किया था और उसे रात करीब 10.30 बजे अलवर के राजकीय गीतानंद शिशु चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। जहां उपचार के दौरान रात 1.10 बजे उसकी मौत हो गई।

रात 2.15 बजे परिजन बच्ची को अस्पताल से ले गए और एसपी आवास के समीप कचरे के ढेर के समीप दीवार के पास पटक गए। पुलिस ने अस्पताल में दर्ज नाम-पते के आधार पर बच्ची के परिजनों की तलाश की, लेकिन उक्त नाम-पते पर कोई नहीं मिला। पुलिस सीसीटीवी कैमरों आदि के माध्यम से बच्ची के परिजनों की तलाश में जुटी हुई है।

ट्रेन की चपेट में आने से राजस्थान के तीन युवकों की मौत, वलसाड़ जाने के लिए निकले थे 6 युवक

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned