अलवर : एबीवीपी ने मत्स्य विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ की नारेबाजी, लगा दिया यह गंभीर आरोप

Prem Pathak

Publish: May, 18 2018 02:19:48 PM (IST)

Alwar, Rajasthan, India
अलवर : एबीवीपी ने मत्स्य विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ की नारेबाजी, लगा दिया यह गंभीर आरोप

अलवर में विद्यार्थी परिषद की ओर से मत्स्य विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।

मत्स्य विश्वविद्यिालय अपनी शुरुआत से ही विवादों में घिरा हुआ है। यहां परीक्षाओं के दौरान, इनके परिणामों के दौरान, नौकरी के आवेदन, वेबसाइट सहित अन्य गतिविधियों के दौरान कुछ गड़बड़ी तो आती ही है। अब मत्स्य विश्वविद्यालय में एक नई गड़बड़ी सामने आई है। मत्स्य विश्वविद्यालय में एमए प्रीवियस की भूगोल, इतिहास व हिंदी साहित्य की परीक्षाएं स्थगित करनी पड़ गई है। वजह है कि मत्स्य विश्वविद्यालय अभी तक इन परीक्षाओं का प्रश्न पत्र ही नहीं बना पाई है। विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से इसको लेकर बोर्ड की मीटिंग का आयोजन किया गया। लेकिन यहां भी विश्वविद्यालय की मीटिंग नारेबाजी से परे नहीं रह सकी।

दरअसल, मत्स्य विश्वविद्यालय की ओर से इस खामी को लेकर मीटिंग का आयोजन किया गया था। लेकिन इस मीटिंग का आयोजन महंगे निजी होटल में किया गया। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद विश्वविद्यालय की खामी के खिलाफ विश्वविद्यालय परिसर में प्रदर्शन करने पहुची थी। लेकिन उन्हें वहां कोई नहीं मिला, जैसे ही एबीवीपी को सूचना मिली की मीटिंग एक महंगे निजी होटल में आयोजित की गई है तो वे तत्काल उस होटल पहुंच गए और वहां नारेबाजी करने लगे।

एबीवीपी के पदाधिकारियों का कहना था कि महंगी होटल में मीटिंग आयोजित कर पैसों की बर्बादी की जा रही है। विद्यार्थियों ने आरोप लगाया कि विश्वविद्यालय प्रशासन खुद के आराम के लिए पैसों की बर्बादी कर रहे हैं। गौरी देवी महिला महाविद्यालय की अध्यक्ष लता भोजवानी का कहना है कि यह मीटिंग विश्वविद्यालय में आयोजित की जा सकती थी, अलवर में कई सरकारी कॉलेज हैं, वहां इस मीटिंग का आयोजन किया जा सकता था, लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन जान बूझकर अपने आराम के लिए पैसों की बर्बादी कर रहा है।

उप कुलपति ने मिलने से किया इनकार

एबीवीपी के पदाधिकारी उप कुलपति से मिलना चाह रहे थे, लेेकिन उप कुलपति उनसे नहीं मिले। कुलपति ने विद्यार्थी परिषद को शाम 4 बजे मिलने का समय दिया है।

नारेबाजी के बाद बुलानी पड़ी पुलिस

विश्वविद्यालय की ओर से पैसों की बर्बादी के खिलाफ विद्यार्थी परिषद की ओर से वहां नारेबाजी की गई। इसके तुरंत बाद ही होटल मालिकों की ओर से पुलिस बुलाई गई। पुलिस की समझाइस पर विद्यार्थी शांत हुए, और वहां से जाने का निर्णय लिया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned