अलवर के इंदिरा गांधी स्टेडियम में हुई एथलेटिक्स प्रजियागिता में इन्होंनें मारी बाजी, अब रांची में राष्ट्रीय स्तर पर खेलेंगे यह खिलाड़ी

अलवर के इंदिरा गांधी स्टेडियम में हुई एथलेटिक्स प्रजियागिता में इन्होंनें मारी बाजी, अब रांची में राष्ट्रीय स्तर पर खेलेंगे यह खिलाड़ी

Hiren Joshi | Publish: Oct, 13 2018 04:52:03 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/alwar-news/

अलवर के इंदिरा गांधी स्टेडियम में जूनियर एथलेटिक प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। इसमें एथलेटिक के अलावा लॉग जंप, गोला फेंक सहित अन्य प्रतियोगिताएं भी हुई। इसमें प्रदेश के 23 जिलों के 822 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया।

इंदिरा गांधी स्टेडियम में हुई जूनियर एथलेटिक प्रतियोगिता में देशभर के 800 से अधिक खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। 11 अक्टूबर से प्रतियोगिताएं हुई थी। इसमें गोला फेंक, दौड़ लॉग जंप, निशा सहित कई खेलों का आयोजन किया गया। 10 किलोमीटर वॉक में सीकर के रोहित, भरतपुर का नरेश व चूरु का जितेंद्र विजेता रहे। इसी तरह से 10,000 मीटर दौड़ में परमिंदर चूरू, अलवर के प्रदीप व जयपुर के प्रधान तीसरे स्थान पर रहे। हाई जंप में गंगानगर के सचिन, जयपुर के सचिन व गंगानगर के वीर सिंह विजेता रहे। 800 मीटर दौड़ में अलवर के मोहम्मद, बीकानेर के अमरदीप व झुंझुनू के राजेश जीते। गोला फेंक में बीकानेर के अक्षय, चूरू के वासु केस व जयपुर के नवीन जीते। इसी तरह से 400 मीटर दौड़ में चूरू के मुकेश, जोधपुर के भारत व अलवर के सूर्य देव विजय रहे। लोंग जंप में बीकानेर से जयपुर के दिव्यांशु व चुरू रविकेश रहे।

प्रतियोगिताओं का आयोजन तीन आयु वर्ग 14 से 16, 16 से 18 और 18 से 20 आयु वर्ग में हुआ। अलवर जिले के बड़ी संख्या में युवाओं ने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। 3 दिनों तक प्रतियोगिताएं चली। प्रतियोगिता में आयोजकों की तरफ से खिलाड़ियों के रुकने व खाने की व्यवस्था की गई थी।

जिला एथलेटिक्स संघ के अध्यक्ष कैप्टन उमराव सैनी ने बताया कि अलवर को जूनियर राज्य स्तरीय प्रतियोगिता करने का मौका मिला था। राजस्थान में सबसे बेहतर प्रतियोगिता अलवर की तरफ से आयोजित की गई है। इस प्रतियोगिता में राज्य स्तरीय खिलाड़ी का भी चयन किया गया है। विजेता खिलाड़ी 6 नवंबर को रांची में होने वाली प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेंगे।

सैनी ने बताया कि एथलेटिक में अलवर का विशेष स्थान है। अलवर में कई एथलेटिक्स खिलाड़ी राष्ट्रीय स्तर पर अपनी अलग पहचान रखते हैं। लेकिन अलवर में आज भी सिंथेटिक ग्राउंड की व्यवस्था नहीं थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned