scriptalwar fake rape case news | राजस्थान में यहां स्कूली बालिकाओं ने कहा हमसे मास्टरजी ने गलत काम किया, जांच में सामने आया सच | Patrika News

राजस्थान में यहां स्कूली बालिकाओं ने कहा हमसे मास्टरजी ने गलत काम किया, जांच में सामने आया सच

भिवाड़ी पुलिस जिले के ग्रामीण क्षेत्र के एक सरकारी स्कूल में छात्राओं से यौन शोषण और अश्लील हरकत करने का सनसनीखेज मामला पुलिस की द्वि-स्तरीय जांच में झूंठा पाया गया है। पुलिस ने 16 दिन के गहन अनुंसधान के बाद इस मामले में शुक्रवार को न्यायालय में एफआर पेश कर दी।

अलवर

Published: December 29, 2021 10:01:56 pm

राजस्थान में यहां स्कूली बालिकाओं ने कहा
हमसे मास्टरजी ने गलत काम किया, जांच में सामने आया सच्च
स्कूली छात्राओं से योन शोषण और छेड़छाड़ की प्रधानाचार्य समेत स्टाफ के 16 जनों के खिलाफ दर्ज हुई थी तीन एफआइआर
- पुलिस ने द्वि-स्तरीय जांच में मामले में 16 दिन में कोर्ट में एफआर पेश कर दी
अलवर.
भिवाड़ी पुलिस जिले के ग्रामीण क्षेत्र के एक सरकारी स्कूल में छात्राओं से यौन शोषण और अश्लील हरकत करने का सनसनीखेज मामला पुलिस की द्वि-स्तरीय जांच में झूंठा पाया गया है। पुलिस ने 16 दिन के गहन अनुंसधान के बाद इस मामले में शुक्रवार को न्यायालय में एफआर पेश कर दी।
भिवाड़ी पुलिस के एक ग्रामीण थाने में 7 दिसम्बर को एक व्यक्ति ने मामला दर्ज कराया कि वह ट्रक चलाता है और अक्सर बाहर रहता है तथा उसकी पत्नी गूंगी-बहरी है। उसकी 14 वर्षीय बेटी सरकारी स्कूल में दसवीं कक्षा में पढ़ती है। किताब-कॉपी, ड्रेस आदि मुफ्त देने, फीस माफ करने और पास करने का झांसा देकर उसकी बेटी के साथ स्कूल के प्रधानाचार्य समेत पांच अध्यापक पिछले एक साल से यौन शोषण कर रहे हैं और कई बार सामूहिक बलात्कार कर चुके हैं। इसमें स्कूल की दो महिला शिक्षिका भी शामिल हैं।
पांच बालिकाओं के तीन अन्य परिजनों ने भी स्कूल स्टाफ पर बालिकाओं से अश्लील हरकत और छेड़छाड़ करने का मामला दर्ज कराया। इन सनसनीखेज आरोपों के साथ स्कूल स्टाफ समेत कुल 16 लोगों के खिलाफ स्कूली बालिकाओं से यौन शोषण और अश्लील हरकत करने की तीन एफआइआर दर्ज कराई गई। यह घटना देशभर के मीडिया में छा गई। इस खबर से पूरे प्रदेश में बवाल मच गया था और अलवर शर्मसार हो गया था, लेकिन पुलिस के अनुसंधान ने पुलिस के अलवर के माथे से इस कलंक को धो दिया है।
द्वि-स्तरीय अनुसंधान में सामने आया सचएफआइआर के अगले दिन भिवाड़ी पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी स्वयं मौके पर पहुंचे। उन्होंने स्कूल स्टाफ, बालिकाओं और ग्रामीणों के घटना को लेकर पूछताछ की और उन सभी के बयान दर्ज किए। वहीं, इस मामले में राज्य सरकार ने तुरंत एसआईटी गठित की।
राजस्थान में यहां स्कूली बालिकाओं ने कहा  हमसे मास्टरजी ने गलत काम किया, जांच में सामने आया सच्च
राजस्थान में यहां स्कूली बालिकाओं ने कहा हमसे मास्टरजी ने गलत काम किया, जांच में सामने आया सच्च
भिवाड़ी पुलिस और एसआईटी ने इस मामले में 16 दिन के गहन अनुसंधान के बाद सच को सबसे सामने लाते हुए शुक्रवार को एफआर पेश कर दी। बदला लेने के लिए रचा षड्यंत्र इस सरकारी स्कूल के एक अध्यापक के खिलाफ करीब एक साल पहले स्कूली छात्राओं से अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया था। जिसमें अध्यापक के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई।
इस मामले में स्कूल के प्रधानाचार्य समेत अन्य अध्यापक गवाह थे। स्कूल के स्टाफ से बदला लेने के लिए इस अध्यापक ने गांव की ही एक महिला के साथ मिलकर षड्यंत्र रचा और तीन-चार ऐसे गरीब और शराबी लोगों को पकड़ा जिनकी बालिकाएं इस स्कूल में पढ़ती हैं। बालिकाओं के अभिभावकों को तीन-तीन लाख रुपए देने और गांव की वित्तीय कमेटी में आजीवन सदस्यता देने की बात कहते हुए अपने झांसे में लिया और उनसे स्कूल स्टाफ के खिलाफ उनकी बालिकाओं से यौन शोषण और अश्लील हरकत करने की एफआइआर पुलिस थाने में दर्ज करा दी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.