अलवर में यहां फाइनेंस कम्पनी के दफ्तर में घुसे हथियारबंद बदमाश, कर्मचारी को गिराकर किया लूट का प्रयास

अलवर में बदमाश अब एक बार फिर से सक्रिय हो गए हैं, वे अब खुलेआम बाजार में ना केवल घूम रहे है, बल्कि एक लूट की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।

Sujeet Kumar

October, 1811:23 AM

Alwar, Alwar, Rajasthan, India

अलवर. शहर के रामगंज स्थित मुथूट फिनकॉर्प लिमिटेड कम्पनी के दफ्तर में लूट के इरादे से दो हथियारबंद बदमाश घुसे। बदमाशों ने कम्पनी के कर्मचारियों पर पिस्टल तानकर कैश लूटने का प्रयास किया, लेकिन एक स्टाफ कर्मचारी के सायरन बजाने पर बदमाश भाग खड़े हुए। कर्मचारी की बुद्धिमता और साहस से फाइनेंस कम्पनी के लाखों रुपए और सोना लुटने से बच गए।

जानकारी के अनुसार बिजलीघर चौराहा के निकट रामगंज स्थित प्रकाश टावर में मुथूट फिनकॉर्प लिमिटेड कम्पनी का कार्यालय है। बुधवार शाम करीब 5.45 बजे बाइक सवार होकर दो बदमाश कम्पनी के कार्यालय के बाहर आकर रुके, जिन्होंने हेलमेट लगाया हुआ था और उनके पास एक बैग था। हेलमेट लगाकर ही दोनों बदमाश कम्पनी के कार्यालय में घुसे और कुर्सी पर बैठे कैशियर और एक अन्य कर्मचारी को लात मारकर गिरा दिया। इसके बाद दोनों बदमाशों ने पिस्टल तानकर कम्पनी के कर्मचारियों को हाथ ऊपर कराते हुए फर्श पर घुटनों के बल बैठा दिया और उनसे चाबी और कैश मांगा। इतने में कम्पनी के स्टाफ कर्मचारी ने सूझबूझ से काम लेते हुए सायरन बजा दिया। सायरन की आवाज सुनकर बदमाश घबरा गए और तुरंत कम्पनी के कार्यालय से बाहर निकल बाइक स्टार्ट कर भाग गए। कम्पनी के अधिकारियों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। इसके बाद डीएसपी (दक्षिण) दीपक शर्मा पुलिस जाप्ते के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली।

उधर, डीएसपी (दक्षिण) दीपक शर्मा का कहना है कि कम्पनी के कार्यालय में लूट के इरादे से दो हथियारबंद बदमाश घुसे, लेकिन वारदात को अंजाम देने में सफल नहीं हो सके। पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी हुई है। घटना के सम्बन्ध में कम्पनी के मैनेजर वीके जैन की तरफ से एफआईआर दर्ज कराई जा रही है। ें ने पकड़ा और उसकी धुनाई बना दी।

20 सेकंड में ही फरार हो गए

पुलिस अधिकारियों ने फाइनेंस कम्पनी के कार्यालय के अंदर व बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। जिसमें करीब 5.45 बजे कम्पनी के कार्यालय में हेलमेट लगाए हुए दो हथियारबंद बदमाश कैद हुए हैं। वारदात के इरादे से आए बदमाश मात्र 20 सैकेंड में ही वहां से फरार हो गए।

केडलगंज की तरफ भागे

वारदात में विफल होने के बाद दोनों बदमाश बाइक पर सवार होकर केडलगंज की तरफ भागे। बदमाशों की उम्र करीब 30 से 35 साल बताई जा रही है। बदमाशों की तलाश में शहर में पुलिस नाकेबंदी कराई गई, लेकिन रात तक पुलिस को बदमाशों का कोई सुराग नहीं लगा।

लाखों का कैश था, करोड़ों का सोना!

वारदात के दौरान कम्पनी के कार्यालय में करीब ढाई लाख रुपए कैश था और करोड़ो रुपए का सोना हो सकता है। वारदात को अंजाम देने से पहले बदमाशों ने फाइनेंस कम्पनी के दफ्तर की रैकी भी की। बदमाशों को यह अच्छी तरह से पता था कि फाइनेंस कम्पनी के दफ्तर में किस समय कैश और सोना मिल सकता है।

एसपी भी पहुंचे पुलिस कंट्रोल रूम

घटना के बाद जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचे और उन्होंने पुलिस अधिकारियों से घटना की पूरी जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। साथ ही घटना के सीसीटीवी फुटेज भी देखे। इस दौरान प्रशिक्षु आईपीएस शैलेन्द्र इंदोलिया व डीएसपी दीपक शर्मा सहित अन्य पुलिसकर्मी मौजूद थे।

Sujeet Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned