थानागाजी गैंग रेप मामले में पुलिस ने कोर्ट में पेश किया चालान, गैंग रेप के अलावा आरोपियों पर लगाई ये कठोर धाराएं

Hiren Joshi | Updated: 18 May 2019, 04:18:10 PM (IST) Alwar, Alwar, Rajasthan, India

थानागाजी गैंग रेप मामले में पुलिस ने कोर्ट में चालान पेश किया। अलवर एसपी ने बताया कि इस मामले में ५०० पेज की चार्जशीट तैयार की गई है।

अलवर. थानागाजी गैंगरेप मामले में पुलिस ने 16 दिन में अनुसंधान पूरा कर न्यायालय में चालान पेश कर दिया है। शनिवार सुबह एएसपी (ग्रामीण) चिरंजीलाल, जांच अधिकारी डीएसपी (ग्रामीण) जगमोहन शर्मा और थानागाजी थानाधिकारी वीरेन्द्र यादव कोर्ट पहुंचे। वहां उन्होंने एससी/एसटी न्यायालय में मजिस्ट्रेट बृजेश शर्मा के समक्ष चालान पेश किया। इस मामले की जांच डीएसपी जगमोहन शर्मा के नेतृत्व में टीम कर रही थी। इस मामले में कुल 35 गवाह हैं। इस प्रकरण को ऑफिसर स्कीम में लिया गया है। पुलिस की ओर से इस मामले में 6 अभियुक्त के खिलाफ चालान पेश किया है।

500 पेज की चार्जशीट

अलवर एसपी परिस देशमुख ने बताया कि इस मामले में 500 पन्नों की चार्जशीट तैयार की गई है। इसमें मौखिक साक्ष्य, वायरल वीडियो के साक्ष्य, तकनीकी विशेषज्ञों की राय शामिल है। इसके अलावा आरोपियों की ओर से धमकी भरे फोन की रिकॉर्डिग का वॉयस टेस्ट कराया गया है, इसकी रिपोर्ट आते ही न्यायालय में पेश कर दी जाएगी।

आरोपियों पर यह धाराएं लगाई गई

अलवर पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने बताया कि इस मामले में अपहरण, रास्ता रोकना, मारपीट करना, निर्वस्त्र करना, मान सम्मान को ठेस पहुंचाना, सामूहिक दुष्कर्म, जातिसूचक शब्द, डकैती, धमकी, और वीडियो वायरल करने की धाराएं लगाई गई हैं। इस मामले में अगली सुनवाई 22 मई को होगी।

यू ट्यूब चैनल के खिलाफ कार्रवाई

पुलिस ने इस मामले में एक यूट्यूब चैनल के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। उक्त यू ट्यूब चैनल ने पीडि़ता की पहचान उजागर की थी। वहीं पुलिस की ओर से फेसबुक व यूट्यूब को इस वीडियो को ब्लॉक करने के लिए पत्र भी लिखा गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned