अलवर जंक्शन के बाहर रात होते ही होने लगते हैं गंदे काम, अवैध तरीके से परोसी जाती है शराब, प्रशासन सब जानकर भी खामोश!

Alwar Junction Illegal Wine : अलवर जंक्शन के बाहर शाम ढलते ही अवैध कार्य शुर हो जाते हैं, खुलेआम लोगों को यहां शराब पिलाई जा रही है, लेकिन जिम्मेदार मौन हैं।

Prem Pathak

October, 2206:06 PM

Alwar, Alwar, Rajasthan, India

अलवर. अलवर जंक्शन के बाहर शाम होते ही अण्डे, मांस-मछली की दुकानों के सामने खुले रोड पर टेबल-कुर्सी लगा शराब परोसी जाती है। लेकिन इसकी न नगर परिषद को परवाह न आबकारी विभाग को कोई वास्ता। ऐसा लगता है यहां किसी भी तरह के नियम व कानून लागू नहीं हैं। स्टेशन के बाहर पूरी रोड पर अतिक्रमण है। अण्डे के ठेले लगते हैं। फुटपाथ पर मांस-मछली की दुकानों का कब्जा है। अण्डे व मांस की दुकान वाले टेबल लगाकर शराब पीने की छूट देते हैं। खुले आसमां के नीचे रोड पर देर रात तक बार चलता है।

जिम्मेदारी परिषद व आबकारी की

रोड पर अवैध कब्जे हटाने की जिम्मेदारी नगर परिषद की है। रात्रि आठ बजे बाद कहीं भी शराब नहीं बेची जा सकती। फिर भी खुले आम बिकती है और रोड पर पीते हैं। आबकारी विभाग को सब पता है। फिर भी ठोस कार्रवाई नहीं हुई। यातायात पुलिस आसपास होते हुए भी कभी रोड पर खड़े वाहनों को हटाने की जहमत नहीं उठाती। नतीजन जनता खुद धक्के खाती है। रोड पर जाम लगता है तो अपने आप ही वाहनों की रेलमपेल होती रहती है। ऑटो रिक्शा पूरी रोड पर अटे रहते हैं। रेलवे जंक्शन के बाहर रोड पर इतना सब कुछ होने के बावजूद जिला प्रशासन ठोस कार्रवाई से बचता फिर रहा है। जनता धक्के खाती है।

शराब पर दिखावे की सख्ती

शराब पीकर वाहन चलाने वालों को रोकने की पुलिस कार्रवाई दिखावे की होती है। स्टेशन के बाहर अण्डे व मांस मछली खाकर निकलने वाले अधिकतर शराब पिए होते हैं। फिर भी आसपास वाहन चालकों की जांच नहीं
होती है।

Prem Pathak
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned