बलात्कारियों के बढ़ते कहर के बीच थानों में महिला हेल्प डेस्क नहीं

बलात्कार के मामलों में जयपुर कमिश्नरेट के बाद अलवर जिला प्रदेश में दूसरे नम्बर पर है, लेकिन फिर भी यहां ज्यादातर पुलिस थानों में महिलाओं की फरियाद सुनने के लिए महिला हेल्प डेस्क नहीं है। जबकि अलवर जिले के थानागाजी हुई गैंगरेप की घटना के बाद प्रदेश सरकार ने सभी पुलिस थानों में महिला हेल्प डेस्क खोलने की घोषणा की थी।

Prem Pathak

December, 0701:12 PM

अलवर. बलात्कार के मामलों में जयपुर कमिश्नरेट के बाद अलवर जिला प्रदेश में दूसरे नम्बर पर है, लेकिन फिर भी यहां ज्यादातर पुलिस थानों में महिलाओं की फरियाद सुनने के लिए महिला हेल्प डेस्क नहीं है। जबकि अलवर जिले के थानागाजी हुई गैंगरेप की घटना के बाद प्रदेश सरकार ने सभी पुलिस थानों में महिला हेल्प डेस्क खोलने की घोषणा की थी।

पुरुष पुलिसकर्मी सुनते हैं महिलाओं की फरियाद
ज्यादातर पुलिस थानों में हालात यह है कि जब कोई महिला अभद्रता, छेड़छाड़, मारपीट या फिर घरेलू हिंसा की शिकायत लेकर थाने में पहुंचती है तो उसकी फरियाद सुनने के लिए पुरुष पुलिसकर्मी बैठे होते हैं। महिला शर्म के कारण अपनी पीड़ा पुरुष पुलिसकर्मियों को खुलकर बता भी नहीं पाती हैं।

अलवर जिले में बलात्कार के प्रकरण
वर्ष प्रकरण

2015 242
2016 221

2017 285
2018 351

2019 328
(नोट- उपलब्ध आंकड़े अक्टूबर-2019 तक)

वर्ष-2018 में टॉप फाइव जिले
जिला बलात्कार के प्रकरण

अलवर 351
जयपुर कमिश्नरेट 299

उदयपुर 244
भरतपुर 203

गंगानगर 188
वर्ष-2017 में भी अलवर टॉप पर

जिला बलात्कार के प्रकरण
अलवर 285

जयपुर कमिश्नरेट 210
भरतपुर 191

उदयपुर 154
गंगानगर 130

प्रयास कर रहे हैं
भिवाड़ी अभी नया पुलिस जिला बना है। यहां फिलहाल थानों में महिला पुलिसकर्मियों की कमी है, जिसके कारण महिला हेल्प डेस्क नहीं बन सकी है। थानों में स्वागत कक्ष और महिला हेल्प डेस्क बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। निश्चित रूप से जल्द ही सभी थानों में यह व्यवस्था कर दी जाएगी।

- अमनदीप सिंह, पुलिस अधीक्षक, भिवाड़ी।

जल्द व्यवस्था करेंगे
अलवर जिले के कुछ पुलिस थानों में पायलट प्रोजेक्ट के रूप महिला हेल्प डेस्क शुरू की गई थी। जल्द ही सभी पुलिस थानों में प्रभावी रूप से महिला हेल्प डेस्क की व्यवस्था की जाएगी।

- एस. सेंगाथिर, आईजी, जयपुर रेंज।

Prem Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned