scriptalwar letest news | बिजलेंस टीम हटाने से अलवर में खान माफियाओं को मिली अवैध खनन की छूट | Patrika News

बिजलेंस टीम हटाने से अलवर में खान माफियाओं को मिली अवैध खनन की छूट

तीन दशक से ज्यादा समय से अवैध खनन का दंश झेल रहे अलवर जिले से राज्य सरकार ने खनन विभाग की बिजलेंस टीम जयपुर बुलाकर खान माफियाओं का अवैध खनन की खुली छूट सी दे दी है।

अलवर

Updated: December 23, 2021 12:36:01 am



अलवर. तीन दशक से ज्यादा समय से अवैध खनन का दंश झेल रहे अलवर जिले से राज्य सरकार ने खनन विभाग की बिजलेंस टीम जयपुर बुलाकर खान माफियाओं का अवैध खनन की खुली छूट सी दे दी है। स्थिति है कि खनन विभाग के पास जिले में बिजलेंस कार्रवाई के लिए टीम ही नहीं बची, नतीजतन इन दिनों टहला, मालाखेड़ा, रामगढ़, बहरोड़ समेत ज्यादातर क्षेत्रों में खुलेआम अवैध खनन सामग्री परिवहन होती दिखाई पड़ती है।
अलवर जिला अवैध खनन को लेकर देश भर में लंबे समय से चर्चित रहा है। एनजीटी से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक अलवर में अवैध खनन को लेकर तल्ख टिप्पणी कर चुके हैं, लेकिन यहां अवैध खनन पर रोक लगाने को लेकर सरकार व प्रशासन उतना गंभीर नहीं रहा। यही कारण है कि अलवर जिले में अवैध खनन रोकने के लिए अतिरिक्त संसाधन जुटाने के बजाय अलवर खनन विभाग की बिजलेंस टीम को ही जयपुर बुला लिया।खान माफिया को मिली खुली छूटजिले में खनन विभाग पहले ही सीमित संसाधनों की समस्या से जूझता रहा है, यहां अवैध खनन रोकने के लिए अतिरिक्त संसाधन की जरूरत है। वर्तमान में अलवर जिले में खनन विभाग की बिजलेंस टीम नहीं होने से अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई लगभग थम सी गई है। यह स्थिति तो तब है, जब जिले के अधिकतर क्षेत्र में अरावली पर्वतमाला में बड़े पैमाने पर अवैध खनन की शिकायतें मिलती रही है। पिछले दिनों में खनन विभाग ने घेघोली की पहाड़ी सहित अनेक स्थानों छिटपुट कार्रवाई भी की गई। लेकिन इन दिनों अलवर जिले में अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई के लिए बिजलेंस टीम नहीं है।

कई बार हटा चुके बिजलेंस टीम

खनन विभाग के उच्च अधिकारियों के आदेश में पर गत 3 दिसम्बर को अलवर की बिजलेंस टीम को जयपुर बुला लिया गया। इससे पहले भी गत अगस्त महीेने में बिजलेंस टीम को जयपुर बुला लिया गया। जबकि सरकार ने ही अवैध खनन के लिए अलवर में बिजलेंस टीम लगाई थी। बिजलेंस टीम में एक एएमई सहित बॉर्डर होमगार्ड के जवान आदि होते हैं, जो कि सूचना या शिकायत मिलने पर मौके पर पहुंच कर अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई करते हैं।
कहीं खनन माफिया को खुली छूट तो नहीं

खनन विभाग के उच्च अधिकारियों की ओर से अलवर से बिजलेंस टीम हटाकर कहीं खान माफिया को अवैध खनन की छूट तो नहीं दी जा रही है। यह स्थिति तो तब है जब सोमवार को जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. बीडी कल्ला अलवर में राज्य सरकार की तीन साल की उपलब्धि गिनाते समय अलवर में अवैध खनन रोकने के लिए जिला प्रशासन को अभियान चलाने की नसीहत दे रहे थे।

टहला क्षेत्र में बड़े पैमाने पर अवैध खनन
सरिस्का के नजदीक होने के कारण टहला क्षेत्र में एनजीटी की ओर से खनन गतिविधियों पर रोक लगाई हुई है। इस कारण टहला क्षेत्र के बलदेवगढ़, गोरधनपुरा, झिरी, धोलीखान सहित आसपास के क्षेत्रों में ज्यादातर खनन लीज बंद करने के आदेश हैं। एनजीटी के आदेश के बावजूद टहला क्षेत्र में इन दिनों बड़े पैमाने पर अवैध तरीके से खनन कर मार्बल खंडों का बिना रवन्ना परिवहन किया जा रहा है। इससे सरकार को भी राजस्व का मोटा नुकसान उठाना पड़ रहा है। बिजलेंस टीम के अभाव में यहां अवैध खनन पर लगाम नहीं लग पा रही है।

जिले में ये हैं अवैध खनन के हॉट स्पॉट
अलवर जिले में मालाखेड़ा स्थित सताना, बिलंदी, एमआइए स्थित गोलेटो, भटेसरा, घेघोली, मुण्डावर के सेवपुर, अलवर शहर के समीप जटियाणा सहित अनेक स्थानों पर बड़े पैमाने पर अवैध खनन होता रहा है। यहां अवैध खनन रोकना खनन विभाग के लिए बड़ी चुनौती है। खनन विभाग के पास सीमित संसाधन होने से कभी- कभार ही यहां कार्रवाई हो पाती है।
बिजलेंस टीम हटाने से अलवर में खान माफियाओं को मिली अवैध खनन की छूट
बिजलेंस टीम हटाने से अलवर में खान माफियाओं को मिली अवैध खनन की छूट

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.