यहां भरा मेला, कोई कंधे पर तो कोई सिर पर सामग्री लेकर हुआ रवाना

यहां भरा मेला, कोई कंधे पर तो कोई सिर पर सामग्री लेकर हुआ रवाना

Rajeev Goyal | Publish: Jan, 29 2018 03:51:50 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

प्रशासन ने मतदान के लिए 1987 मतदान दलों को मतदान सामग्री, इलैक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन, वीवीपैट आदि लेकर रवाना किया


कला कॉलेज में भरा मतदान कर्मियों का मेला

अलवर. लोकसभा उपचुनाव के लिए रविवार को मतदान दलों को मतदान सामग्री देकर रवाना किया गया। इस दौरान कोई मतदान कर्मी कांधे पर तो कोई सिर पर मतदान सामग्री लेकर निकला। कई की सांसें भी फूली तो कई को सहारे की जरूरत पड़ी। दरअसल, इस बार मतदान दलों के सामान में नई वीवीपैट मशीन भी जुड़ गई। इससे उनके सामान का भार बढ़ गया। मशीनों सहित अपने बैडिंग आदि का सामान लेकर जैसे-तैसे मतदान कर्मी बसों तक पहुंचे और अपने-अपने गंतव्य स्थान के लिए रवाना हुए। प्रशासन ने मतदान के लिए 1987 मतदान दलों को मतदान सामग्री, इलैक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन, वीवीपैट आदि लेकर रवाना किया। इससे पहले जिला कलक्टर राजन विशाल, पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश सहित पर्यवेक्षक के. नन्थाकुमार व चोकालिंगम ने स्टांग रूम में सील लगे ताले को खुलवाया। इसके बाद मतदान दलों ने अपने से संबंधित मतदान केन्द्र की इलैक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन व वीवीपैट मशीन ली। इससे पूर्व जिला निर्वाचन अधिकारी ने मतदान दलों को दिए अंतिम प्रशिक्षण का भी अवलोकन किया।

वोटिंग मशीनों पर प्रत्याशियों का मतपत्र

मतदान दलों की रवानगी के दौरान खास बात ये थी कि सभी मतदान दलों को जो वोटिंग मशीन दी गई, उनके बैलेट यूनिट पर सभी 11 प्रत्याशियों वाला मतपत्र लगा हुआ था। मतदान दलों ने महाविद्यालय में खोले गए काउंटरों से चुनाव सामग्री प्राप्त की और अपने आवंटित वाहनों में पुलिसकर्मियों के साथ मतदान केन्द्रों के लिए रवाना हुए।

मार्ग में भी दर्ज कराई उपस्थिति

अलवर से रवाना होने के बाद मतदान दलों को मार्ग में स्थापित चैकपोस्टों पर भी अपनी उपस्थिति अंकित करानी पड़ी। इसके बाद वे अपने-अपने संबंधित केन्द्रों पर पहुंचे, जहां उन्होंने देर शाम तक मतदान पूर्व की तैयारी की।

प्रशासन की ओर से मतदान दलों को इस बार एक टेबल पर समस्त चुनाव सामग्री उपलब्ध कराई गई। इससे दलों को चुनाव सामग्री के लिए अलग-अलग स्थानों पर नहीं भटकना पड़ा। जबकि हर बार उन्हें एक-एक टेबल पर जाकर चुनाव सामग्री एकत्र करनी पड़ती थी। इससे चुनाव ड्यूटी पर लगे कर्मचारियों का एक ही स्थान पर परिचय हो गया।

आसपास नहीं लगे भीड़

जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी सेक्टर मजिस्ट्रेटों और गश्ती पुलिस दलों को अपने क्षेत्र में निरंतर गतिशील रहने एवं स्वतंत्र, निष्पक्ष व भयमुक्त वातावरण में मतदान कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मतदान केंद्र के पास अनावश्यक भीड जमा नहीं होने देने एवं प्रत्याशी व उनके एक अधिकृत एजेण्ट के वाहन को छोड़ कोई भी अनाधिकृत वाहन को क्षेत्र में प्रवेश नहीं देने के निर्देश दिए हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned