अलवर शहर विधायक संजय शर्मा ने विधानसभा में उठाया मेडिकल कॉलेज का मुद्दा, वहीं शकुंतला रावत ने बताई क्षेत्र की समस्याएं

अलवर शहर विधायक संजय शर्मा ने विधानसभा में उठाया मेडिकल कॉलेज का मुद्दा, वहीं शकुंतला रावत ने बताई क्षेत्र की समस्याएं

Lubhavan Joshi | Updated: 19 Jul 2019, 09:27:31 AM (IST) Alwar, Alwar, Rajasthan, India

Alwar MLA Sanjay Sharma : अलवर शहर विधायक संजय शर्मा ने विधानसभा में मेडिकल कॉलेज का मुद्दा उठाया।

अलवर. शहर विधायक संजय शर्मा ने गुरुवार को विधानसभा में अलवर जिले के हक का मेडिकल कॉलेज दूसरी जगह खोलने और 800 करोड़ रुपए के ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज चालू करने का मुद्दा उठाया। विधानसभा में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विषय पर बोलते हुए विधायक शर्मा ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार के समय अलवर के केन्द्रीय कारागृह परिसर की जमीन में मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा हुई। बकायदा जमीन आवंटित भी की गई। लेकिन, बाद अलवर में खोले जाने वाले मेडिकल कॉलेज को दूसरी जगह भेज दिया। इसी तरह अलवर के एमआईए में करीब 800 करोड़ रुपए की लागत से ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज का भवन तैयार है लेकिन, सरकार इसे चालू नहीं करा पा रही है। मौजूदा सरकार के मंत्री केन्द्र सरकार के मंत्री से बातचीत कर ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज को चालू कराएं। ताकि जिले के लाखों लोगों को विशेषज्ञों से इलाज कराने का अवसर मिले।

बानसूर अस्पताल 100 बैड का बने

बानसूर विधायक शकुंतला रावत ने विधानसभा में अपने क्षेत्र की चिकित्सा जरूरतों को रखते हुए कहा कि बानसूर अस्पताल को 100 बैड का करने की जरूरत है। वहां प्रतिदिन आउटडोर 500 से अधिक है। यहां एक ट्रोमा वार्ड बनाने की जरूरत है। छींड ऐरिया में धामला का बास, नाथूसर में उप स्वास्थ्य केन्द्र खोला जाए। नारायणपुर में महिला चिकित्सालय बनाने की जरूरत है। इसके अलावा ऐसी व्यवस्था हो कि प्रदेश भर में चिकित्सकों को हड़ताल नहीं करनी पड़े। इसके अलावा मुण्डावरा गढी में पीएचसी का नाम पार्वती देवी के न ाम से किया जाए। अस्पतालों में रिक्त पद भरने की जरूरत है।

डॉक्टरों के पद खाली, बैड कम पड़े

विधायक ने कहा कि डॉक्टरों के पद बड़ी संख्या में रिक्त पड़े हैं और सामान्य अस्पताल सहित आसपास के प्रमुख अस्पतालों में मरीजों को बैड नहीं मिलते हैं। सरकार सामान्य अस्पताल, महिला अस्पताल, शिशु अस्पताल और काला कुआं सैटेलाइट अस्पताल में 501 नए बैड स्वीकृत करे। ताकि गरीब लोग इलाज करा सकें। जिले में चिकित्सकों के करीब 130 पद रिक्त हैं। उनको भरा जाए। सामान्य अस्पताल का भवन अंग्रेजों के समय का बना है। इसके अलावा चिकित्सकों के क्वार्टर जर्जर हैं। पूरे की मरम्मत की जरूरत है। जिसके लिए अलवर से बजट मिले।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned