रकबर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुए कई खुलासे, सामने आया मौत का कारण

रकबर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई है। उसमें कई खुलासे हुए हैं।

By: Prem Pathak

Published: 24 Jul 2018, 11:13 AM IST

रकबर की मौत के कारणों पर चल रहे विवाद के बीच उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। इस रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि उसके एक हाथ व एक पैर की हड्डी सहित पसलियां टूटी हुई थी। पोस्टमार्टम करने वाली टीम में डॉ. राजीव कुमार गुप्ता, डॉ. अमित मित्तल और डॉ. संजय गुप्ता शामिल थे।

रिपोर्ट में बताया गया कि रकबर के शरीर पर 12 स्थानों पर चोट आई थी। पत्रिका के पास इस रिपोर्ट की प्रतिलिपि उपलब्ध है। इसी आधार पर विशेषज्ञ चिकित्सकों का कहना है कि अधिक मार के कारण वह सदमे में चला गया और इससे उसकी मौत हो गई।

मौके पर अब भी मौजूद हैं मारपीट के निशान

इस बीच पत्रिका टीम ने घटना स्थल का मौका मुआयना किया है। ललावंडी के जिस खेत में भीड़ ने रकबर को मारा था, उस खेत की गीली मिट्टी में आज भी वो निशान मौजूद हैं, जो मारपीट की घटना की पुष्टि करते हैं। उस खेत में लोगों के पैरों, रकबर को गीली मिट्टी में दबोचने पीटने और गायों के पैरों के निशान मौजूद हैं।

पुलिस ने कहा- निष्पक्षतापूर्वक होगी जांच

जयपुर से आए पुलिस अधिकारियों ने थाना परिसर में शाम करीब साढ़े सात बजे प्रेसवार्ता कर घटनाक्रम की जानकारी दी। प्रेसवार्ता में एडीजी एनके रेडडी ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से जयपुर से चार अफसरों की टीम बनाकर भेजी गई है। जिसमें वे स्वयं, हेमंत प्रियदर्शी, पंकज कुमार सिंह व महेन्द्र सिंह हैं। यहां आकर ललावंडी घटनाक्रम के संबंध में सम्पूर्ण पहलुओं की पड़ताल करते हुए निष्पक्षतापूर्वक जांच की जाएगी।

प्रकरण में जांच अधिकारी मोहनसिंह को निलम्बित व तीन अन्य पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया गया है। मामले की जांच निष्पक्षतापूर्वक से हो इसके लिये प्रत्येक पहलू व गवाह, सन्तरी सहित अन्य से जांच जारी है। उन्होंने कहा कि रामगढ़ का माहौल किसी भी समुदाय द्वारा खराब नहीं होने दिया जाएगा।

Prem Pathak Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned