इस जिले में परिवहन विभाग में लाईसेंस बनाना हुआ ऑनलाइन, आप भी जाने कैसे मिलेगी ददालों से मुक्ति

ऑनलाइन बनेंगे लाइसेंस सहित अन्य दस्तावेज, एक जून से डुप्लीकेट लाइसेंस भी बनेगा ऑनलाइन

By: Prem Pathak

Published: 24 May 2018, 12:08 PM IST

अलवर. परिवहन विभाग में अब दलाली का खेल नहीं चलेगा। विभाग में अब लाइसेंस सहित सारे काम ऑनलाइन होंगे। इनमें से कुछ कार्य ऑनलाइन शुरू हो चुके हैं, वहीं कुछ 25 मई के बाद शुरू हो जाएंगे। विभाग में डुप्लीकेट लाइसेंस बनाने का कार्य भी एक जून से ऑनलाइन हो जाएगा। इसके बाद आमजन को छोटे-छोटे कार्यों के लिए परिवहन विभाग कार्यालय के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। साथ ही वे दलालों के चुंगल में फंसने से भी बचेंगे। जिला परिवहन अधिकारी ने बताया कि परिवहन विभाग में अब तक सारथी 2.0 में काम हो रहा था। अब इसकी जगह सारथी 4.0 में काम होगा। नए सॉफ्टवेयर में सारे काम ऑनलाइन होंगे। लाइसेंस के लिए भी आवेदक को अब परिवहन विभाग कार्यालय के चक्कर काटने एवं दलालों के चुंगल में फंसने की जरूरत नहीं रहेगी। आवेदक घर बैठे लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन कर फीस भर सकेगा। केवल उसे ट्रायल के लिए परिवहन विभाग आना पड़ेगा, जिसकी तिथि भी वह ऑनलाइन देख सकेगा।

दलालों का था घेरा

परिवहन विभाग में लाइसेंस सहित अन्य कार्यों के ऑफलाइन होने से दलालों का घेरा बना हुआ था। कार्यालय के बाहर बड़ी संख्या में दलालों ने दुकानें भी खोल ली थी। इससे न सिर्फ जनता की जेब कट रही थी, बल्कि विभाग को भी बदनामी झेलनी पड़ रही थी। अब सरकार ने परिवहन विभाग के सभी कार्य सारथी 4.0 (ऑनलाइन) कराना शुरू किया है। अलवर में भी दस्तावेजों को ऑनलाइन करने की कवायद चल रही है। विभाग के अधिकारियों के अनुसार एक जून तक कार्यालय में सभी कार्य ऑनलाइन शुरू हो जाएंगे।

...तो फीस हो जाएगी निरस्त

जिला परिवहन अधिकारी ने बताया कि जिन आवेदकों ने लाइसेंस की फीस पूर्व में जमा करा दी है और दस्तावेज लाइसेंस धारक के पास हैं। ऐसे सभी आवेदक 25 मई को दोपहर 2 बजे तक परिवहन कार्यालय में आवेदन कर अपने लाइसेंस बनवा सकते हैं। ऐसे लाइसेंस धारक जिन्होंने अपने दस्तावेज कार्यालय में प्रस्तुत कर दिए हैं, लेकिन उनका कार्य किसी दस्तावेज की कमी के कारण लम्बित है। ऐसे आवेदक भी 25 मई तक अपने कार्य निष्पादित करा सकते हैं। इसके बाद ऐसे आवेदकों की फीस सारथी 4.0 पर स्वत: ही निरस्त हो जाएगी। ऐसी स्थिति में आवेदक को पुन: फीस जमा करानी होगी।

परिवहन विभाग में अब सभी कार्य ऑनलाइन होंगे। इसके लिए आवेदक को कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। वे एक क्लिक पर अपने आवेदन का स्टेटस जान सकेंगे। एक जून से डुप्लीकेट लाइसेंस भी ऑनलाइन बनना शुरू हो जाएंगे।
अशोक शर्मा, जिला परिवहन अधिकारी अलवर

Prem Pathak Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned