टिल्लू जाट हत्याकांड का खुलासा: हरियाणा के इस गैंगस्टर ने जेल में बैठकर चलवाई थी ताबड़तोड़ गोलियां, गिरफ्तार

अलवर जिले के कोटकासिम में जिम करते वक्त टिल्लू जाट की हत्या कर दी गई थी, पुलिस ने इसके मास्टरमाइंड को गिरफ्तार कर लिया है

By: Lubhavan

Updated: 01 Aug 2020, 07:55 AM IST

अलवर. कोटकासिम के किशनगढ़बास मुख्य सडक़ मार्ग पर स्थित श्याम हैल्थ क्लब में 24 जून को दिनदहाड़े जिम संचालक जितेश उर्फ टिल्लू जाट की हत्या करने के मामले का शुक्रवार को पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया।

इस मामले के मास्टर माइण्ड मुख्य सरगना हरियाणा का कुख्यात अपराधी चांद उर्फ चांदराम गुर्जर (25) निवासी मुण्डनवास, थाना कसौली, जिला रेवाड़ी, हरियाणा को गिरफ्तार कर लिया।

भिवाड़ी जिला पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी ने बताया कि जिम संचालक जितेश उर्फ टिल्लू जाट हत्याकाण्ड का सम्बन्ध रेवाड़ी, गुरुग्राम क्षेत्र के गैंगवार से होने की आशंका के मुद्देनजर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरुण माच्या व किशनगढ़बास वृत्ताधिकारी ताराचन्द के निर्देशन में एक टीम का गठन किया गया, जिसमें कोटकासिम थानाधिकारी विनोद सामरिया, भिवाड़ी के फूलबाग थानाधिकारी रविन्द्र प्रताप व पुलिस निरीक्षक जितेन्द्र सिंह सोलंकी मय क्यूआरटी, भिवाड़ी को भी शामिल करते हुए हरियाणा में आरोपियों की तलाश की। इस घटना के तार हरियाणा के कुख्यात अपराधी चांद उर्फ चांदराम गुर्जर निवासी मुण्डनवास, थाना कसौली, जिला रेवाड़ी(हरियाणा) से जुड़े होने की बात सामने आने पर इस कुख्यात अपराधी को भोंडसी जेल, गुरुग्राम से प्रोडक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ की, जिसमें जुर्म साबित पाए जाने पर आरोपी चांद गुर्जर को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी को न्यायालय में पेश कर अग्रिम अनुसंधान के लिए पुलिस हिरासत में लिया जाएगा। साथ ही इस हत्याकाण्ड में शामिल अन्य सहयोगियों के संबन्ध में भी पूछताछ की जाएगी। जोशी ने बताया कि चांद गुर्जर एनसीआर क्षेत्र का कुख्यात अपराधी है, जिसके विरुद्ध गैंगवार के करीब ढाई दर्जन मुकदमे दर्ज हैं। इस हत्याण्ड का पर्दाफाश करने वाली टीम जिसमें 12 अन्य कांस्टेबल भी हैं, इनको पारितोषिक दिया जाएगा।

फिल्मी स्टाइल में की थी फायरिंग

गौरतलब है कि वारदात के दौरान जिम में गत 24 जून को जिम संचालक जितेश उर्फ टिल्लू जाट(33) पुत्र रणसिंह के अलावा पांच- छह अन्य युवक भी व्यायाम कर रहे थे। सुबह लगभग 8.15 बजे 4 बदमाश फिल्मी अंदाज में जिम में घुसे और टिल्लू पर फायरिंग कर दी।

इसमें टिल्लू को पांच गोलियां लगी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं कोटकासिम निवासी रामनिवास प्रजापत (25) को जांघ में गोली लगी। हमलावर हथियार लहराते और हवाई फायर करते हुए भागे। बाहर नीली कार आई, जिसमें बैठकर वे फरार हो गए। खास बात यह रही कि फायरिंग को अंजाम देने वाले बदमाश सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गए। यही वजह रही कि बदमाशों तक पहुंचने में पुलिस को काफी मदद मिली। इस वारदात में पांच जनों के शामिल होने की बात सामने आई थी।

टिल्लू के खिलाफ भी छह आपराधिक मामले दर्ज

गौरतलब है कि मृतक जितेश उर्फ टिल्लू जाट मूलत: कोटकासिम का रहने वाला था। लेकिन अक्सर रेवाड़ी के मुण्डनवास में ही रहता था। पुलिस के अनुसार उसके कोटकासिम और रेवाड़ी पुलिस थानों में हत्या के प्रयास, मारपीट और जमीनों पर कब्जे के छह मामले दर्ज हैं।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned