अलवर पुलिस ने दबोचा मास्टर माइंड, इस खतरनाक काम को दिया था अंजाम

अलवर पुलिस ने दबोचा मास्टर माइंड, इस खतरनाक काम को दिया था अंजाम

Rajeev Goyal | Updated: 31 Jan 2018, 11:19:57 AM (IST) Alwar, Rajasthan, India

सेल टैक्स विभाग के कम्प्यूटर सिस्टम हैक कर करोड़ों रुपए की चपत लगाने के मामले में पुलिस ने मंगलवार को मास्टर माइंड को गिरफ्तार किया।

अलवर. सेल टैक्स विभाग के कम्प्यूटर सिस्टम हैक कर करोड़ों रुपए की चपत लगाने के मामले में पुलिस ने मंगलवार को मास्टर माइंड को गिरफ्तार किया। यह आरोपित सेल टैक्स विभाग के अलवर जोन में हुई गड़बड़ी का मुख्य आरोपित है। इसी ने एक दिन पूर्व मामले में गिरफ्तार सॉफ्टवेयर इंजीनियर को कमीशन के 18 लाख रुपए दिए थे। उधर, मामले में सॉफ्टवेयर इंजीनियर से पूछताछ जारी है। सूत्रों के अनुसार इस प्रकरण में पुलिस कुछ और संदिग्ध व्यक्तियों की जल्द गिरफ्तारी कर सकती है। उद्योगनगर थाना प्रभारी वीरेन्द्र शर्मा ने बताया कि अलवर जोन के सेल टैक्स विभाग में हुई गड़बड़ी में फरार चल रहे मुख्य आरोपित इमरान निवासी प्रताप कॉलोनी नई बस्ती थाना कोतवाली को मंगलवार को गिरफ्तार किया गया। आरोपित ने अलवर जोन से लाखों रुपए की नकदी को भरतपुर निवासी प्रेमवती मीना के खाते में ट्रांसफर किया था।
इमरान ने बाद में प्रेमवती के खाते से नकदी निकाल कर साफ्टवेयर इंजीनियर नीरज सोनी को उसका कमीशन 18 लाख रुपए दिया था। मामले में पुलिस ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर सोनी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे पुलिस रिमाण्ड पर सौंपा गया। मामले में पुलिस ने मंगलवार को मुख्य आरोपित इमरान को गिरफ्तार कर अलवर के शिवाजी थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया। वहीं, मामले में प्रेमवती की पुत्री लता को पहले ही पकड़ा जा चुका है। लता ने ही मां के खाते में इमरान को राशि ट्रांसफर करने के लिए कहा था। इस खाते को इमरान ही ऑपरेट करता था।
जल्द हो सकती हैं और गिरफ्तारी

हेराफेरी के मामले में पुलिस जल्द कुछ और संदिग्ध लोगों की गिरफ्तारी कर सकती है। जिन खातों में लाखों रुपए ट्रांसफर हुए हैं, पुलिस उन खातेदारों को गिरफ्तार कर सकती है। उधर, साफ्टवेयर इंजीनियर से पूछताछ में पुलिस को कुछ और लोगोंं के इस खेल में शामिल होने की जानकारी मिली है। पुलिस इन संदिग्ध व्यक्तियों के खातों की जानकारी कर रही है।
आरोपित इमरान को अभी भरतपुर पुलिस ने हमें नहीं सौंपा है। ऐसी कोई सूचना भी हमेें नहीं मिली है। यदि पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है, तो उसे जल्द अलवर लाया जाएगा।
विनोद सामरिया, थाना प्रभारी, शिवाजी पार्क अलवर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned