राजस्थान पुलिस को बड़ी सफलता, आठ करोड़ की ठगी का आरोपी शातिर बदमाश पकड़ा

राजस्थान पुलिस ने बिटकॉइन में निवेश कराने के नाम पर करीब आठ करोड़ रुपए की ठगी करने के आरोपी को दस्तयाब किया है

By: Lubhavan

Published: 14 Oct 2020, 10:10 PM IST

भिवाड़ी. मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले की पुलिस ने बिटकॉइन में निवेश के नाम पर आठ करोड़ रुपए की ठगी करने के आरोपी को भिवाड़ी के एक होटल से दस्तयाब किया है। आरोपी बीटीसी एडीएस नामक प्रो नामक फर्म के जरिये इंटरनेशनल डिजिटल करेंसी कर नाम पर लोगों से ज्यादा मुनाफा देने का झांसा देकर निवेश कराता था। आरोपी एमपी में ठगी करने के बाद भिवाड़ी में आकर छिप गया था, जिसकी पुलिस लगातार तलाश में जुटी हुई थी।

मंदसौर पुलिस के एएसआई प्रेमसिंह ने बताया कि इंदौर निवासी आरोपित अखिलेश शर्मा के खिलाफ मंदसौर के कोतवाली थाने में करीब सौ-डेढ़ सौ लोगों ने ठगी का मामला दर्ज कराया है। इसने इन लोगों को दस गुना ज्यादा रकम दिलाने का लालच देकर बिटकॉइन में निवेश कराने के नाम पर करीब आठ करोड़ रुपए की ठगी अकेले मंदसौर जिले में की है। उन्होंने बताया कि आरोपी चेन सिस्टम के जरिये लोगों से ठगी करता और पड़ताल में अन्य पीडि़तों के भी सामने आने की संभावना है। ठगी की रकम करीब पांच सौ करोड़ रुपए तक जा सकती है। अखिलेश शर्मा के एक साथी मनोज कुमार को स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) पूर्व में गिरफ्तार कर चुकी है।

अखिलेश वहां से ठगी करने के बाद फरार हो गया था। एमपी पुलिस आरोपी की लोकेशन भिवाड़ी मिलने पर यहां पहुंची और स्थानीय पुलिस की मदद से उसे दस्तयाब कर अपने साथ लेकर गई है। आरोपी से अलवर जिले में बिटकॉइन के नाम पर ठगी करने के बारे में पूछताछ की जाएगी। उन्होंने बताया कि आरोपी ने कई राज्यों में बिटकॉइन में निवेश में ज्यादा मुनाफे का लालच देकर लोगों को ठगने का नेटवर्क फैला रखा है। जल्द से जल्द ज़्यादा मुनाफा कमाने के लालच में लोग इनके जाल में फंस जाते हैं और अपनी मेहनत की कमाई गंवा देते हैं।

Show More
Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned