राजस्थान में सनसनीखेज मामला: पति सब्जी देने गया, पीछे से दोस्त ने उसकी पत्नी से बलात्कार कर हत्या कर डाली

एक व्यक्ति ने अपने दोस्त के पीछे से उसकी पत्नी के साथ बलात्कार कर दिया और हत्या कर डाली।

By: Lubhavan

Published: 20 Nov 2020, 09:51 PM IST

अलवर. जयपुर में परिवार के साथ रह रहे एक व्यक्ति की पत्नी के साथ उसके दोस्त ने बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी। यही नहीं उसके शव को कार में रखकर अपने दोस्त के घर पहुंच गया। अलवर जिले के एक गांव निवासी एक व्यक्ति पिकअप में सब्जी भर कर भिवाड़ी आया था। इसी दौरान पीछे से उसके घर आए उसके परिचित ने पत्नी के साथ बलात्कार किया।

वहीं विरोध करने पर हत्या कर डाली। हत्या के राज को छुपाने के बहाने आरोपी अपनी कार में शव को रख मृतका के ससुराल पहुंच गया। वहां बीमार होने से हुई मौत के बहाने अंतिम संस्कार कराना चाहा था। परिजनों एवं ग्रामीणों को हुए संदेह पर शव का पोस्टमार्टम कराने व हत्या की आशंका जताते हुए उक्त युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

पुलिस थाना एएसआई के अनुसार अलवर के ग्रामीण क्षेत्र निवासी ने मुकदमा दर्ज कराया कि वह अपनी पत्नी, लडक़ा व लडक़ी के साथ गत एक वर्ष से अन्य शहर में रह रहा था। 17 नवम्बर की रात घर से खाना खाकर मुहाना मण्डी से सब्जी की पिकअप भर कर भिवाड़ी के लिए रवाना हुआ था। 18 नवम्बर को दिन के 9 बजे के करीब पत्नि से फोन पर हुई बातचीत में सब कुछ ठीक ठाक था। दोपहर 12 बजे उसके पास आरोपी परिचित ने फोन पर उसकी पत्नी के बीमार होने की सूचना देने के बाद फोन काट दिया। बार बार संपर्क करने के बाद भी उसने फोन नहीं उठाया।

मृतका के पति ने रिपोर्ट दर्ज करा आरोप लगाया कि आरोपित ने उसके बेटे को ट्यूशन पर भेज उसकी पत्नी के साथ ज्यादती की। वहीं विरोध करने पर उसकी हत्या कर साक्ष्य मिटाने के बहाने अपनी कार में शव को रख महिला के ससुराल लेकर पहुंचा एवं दाह संस्कार कराना चाह रहा था। परिजनों व ग्रामीणों को संदेह होने पर व बेटे द्वारा घटना की सच्चाई बताने पर पुलिस को सूचना देकर शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने व हत्या व बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराया गया। साथ ही शव को लेकर आए आरोपित की ग्रामीणों व परिजनों ने जमकर धुुनाई कर पुलिस को सौंप दिया।

पुलिस ने आरोपित को हिरासत में लेकर कार भी जब्त कर ली। वहीं हत्या, बलात्कार व साक्ष्य मिटाने के जुर्म में जीरो एफआईआर दर्ज कर शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया। आरोपित अपने आप को पुलिसकर्मी व मुख्यमंत्री की सुरक्षा का कमाण्डो होने की बात कह कर धमकाने व डराने का प्रयास भी किया। परन्तु ग्रामीणों की ओर से साजिश की सच्चाई जानने के लिए पुलिस का सहारा लेकर मुकदमा दर्ज कराया गया।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned