हथियारबंद बदमाश लूट ले गए 12 लाख के जेवरात


फायरिंग कर नौकर को किया घायल
ज्वैलर्स के साथ वारदात

अलवर/नीमराणा. कस्बे के सबसे व्यस्तम जगह कृष्णा टावर में स्थित योगेश ज्वैलर्स पर शुक्रवार रात साढ़े आठ बजे के करीब बाइक पर आए बदमाशों ने फायरिंग करते हुए व्यापारी से लाखों रुपए के जेवरात से भरे हुए बैग छीन कर फरार हो गए। योगेश ज्वैलर्स के मालिक योगेश कुमार ने बताया कि वह साढ़े आठ बजे के करीब दुकान बढ़ा कर अपने पिता के साथ घर जाने के लिए गाड़ी में बैठ रहा था। तभी एक अपाची बाइक पर दो तीन बदमाश आए और उस पर अंधाधुंध फायरिंग करने लग गए तथा उसके हाथ से लाखों रुपए के जेवरात से भरे हुए बैग छीन कर फरार हो गए। उसने घटना की जानकारी नीमराणा पुलिस थाने में दी। जिसके बाद नीमराणा पुलिस ने कस्बे सहित हाइवे व अन्य थाना क्षेत्र में नाकाबंदी कर बदमाशों की धरपकड़ की कार्रवाई की लेकिन बदमाश घटना को अंजाम देकर आसानी से फरार हो गए। घटना के बाद नीमराणा पुलिस ने क्षेत्र में स्थित सभी हाउसिंग सोसायटी में अपाची बाइक पर दो तीन लोगों के आने की सूचना तुरन्त पुलिस को देने की बात सामने आई है। घटना के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे ओर घटना स्थल पर जांच शुरू कर दी। वहीं ज्वैलर्स योगेश कुमार का कहना है कि बदमाशों द्वारा की गई लूट की घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई है।
2 वर्ष पूर्व भी हुई थी लूट
योगेश ज्वैलर्स पर चार फरवरी 2018 को भी बदमाश हरिया गुर्जर गैंग ने लूट व फायरिंग की घटना को अंजाम दिया गया था और सीधे लोगों को ललकारता हुआ कहा था कि हरिया गुर्जर कभी खाली हाथ नहीं गया है। जिसके बाद नीमराणा पुलिस हरिया गुर्जर को गिरफ्तार नहीं कर पाई थी। हरिया गुर्जर की पलवल पुलिस की हिरासत में संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी वहीं उसका साथी अरुण का एनकाउंटर हो गया था। वहीं नीमराणा कस्बे में आए दिन बदमाश किसी न किसी घटना को अंजाम देकर पुलिस की नाकामी को दिखा रहे है तथा पुलिस द्वारा की जाने वाली रात्रि गस्त की भी पोल खुल रही है। योगेश ज्वैलर्स की दुकान पर चौकीदारी का कार्य करने वाले गार्ड चंद्रप्रकाश ने बताया कि वह दुकान से सामान गाड़ी में रख रहे थे तभी तीन बदमाश अपाची बाइक पर आए और फायरिंग करने लगे तथा गाड़ी में ज्वैलरी से भरे हुए बैग लेकर फरार हो गए। बदमाशों ने फायरिंग करने के दौरान चौकीदार चंद्रप्रकाश के गोली के छर्रे लगे। चौकीदार ने बताया कि घटना के समय कैलाश ,योगेश व स्वयं वह मौजूद थे तथा बैगों में बारह लाख की ज्वैलरी रखी हुई थी जिसे वह आज ही खरीद कर लाये थे।
एएसपी ऑफिस के पास है दुकान
लूट की वारदात हुई वह मात्र डीएसपी एवं एएसपी ऑफिस से कुछ ही दूरी पर स्थित है। लेकिन बदमाशों में पुलिस का भय नहीं रहा है।

Pradeep Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned