अलवर की जनता को दिखा रहे स्मार्ट सिटी के सपने, लेकिन हालत आपके सामने है

अलवर शहर के हालात बेहद ही खराब है। यहां की हालत से शहर की जनता बेहद परेशान है।

By: Prem Pathak

Published: 20 Jul 2018, 04:57 PM IST

अलवर. शहर के एक चौथाई हिस्से के हालात सरकार व प्रशासन तक पहुंचाने के बाद जनता का दर्द तो सामने दिखा लेकिन जिम्मेदार कहीं नजर नहीं आए। जनता समस्याओं से जूझ रही है। टूटी सडक़ें अब पूरी तरह बिखर चुकी है। अब तो गड्ढ़े ही गड्ढे नजर आते हैं सडक़ कहीं नहीं दिखती। चाहे शहर की पॉश कॉलोनी शांति कुंज हो या पुराना क्षेत्र लाल डिग्ग्गी। काला कुआं के हालात पर पिछले दिनों की बिगड़ी तस्वीर अभी ज्यादा कुछ नहीं बदल सकी है।

विवेकानन्द नगर में सबसे बुरे हाल हैं। सडक़ नाम की चीज दिखती नहीं है। घरों के आगे पानी भरा है। चलता वाहन पता नहीं कब गड्ढ़े में गिर जाए। यहां से निकलने वाले लोगों को अचानक गड्ढ़े में चोट भी लग रही हैं। थोड़ी बारिश में कीचड़ ही कीचड़ हो जाता है। गर्मियों में धूल के गुबार उड़ते हैं। अभी हालात बदले नहीं हैं। जनता ने खुद बताया अपना दर्द। आप भी उनकी जुबानी जानिए।

सीवरेज का काम दो महिने से चल रहा है जो अभी तक पूरा नहीं हुआ। आखिर कब तक हम परेशान होते रहेंगे। आसपास चार स्कूल हैं, रोज बच्चे गिर रहे हैं। ना कोई सुनने वाला है ना कोई देखने वाला।
मंजू मीणा, मालवीय नगर।

रोज यही सुन रही हूं सीवरेज की खुदाई चल रही है। आखिर काम कब पूरा होगा। घर के आगे से गडढा छोड़ दिया। अपने पैसों से मलबा डलवाया है। आए दिन यहां लोग दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं, कोई सुनने वाला ही नहीं है।
मीनू गर्ग, मालवीय नगर।

यहां पर सारा रोड खुदा हुआ है। रोड से निकलने की जगह ही नहीं छोड़ी। रोज वाहन फंस रहे हैं। रात को घर से निकलते हुए भी डर लगता है। बच्चों को घर से बाहर निकालना मुश्किल हो गया है।
शिवानी पांचाल, मालवीय नगर।

जगन्नाथ मेले के नाम पर सडक़ों पर कुछ काम हुआ है लेकिन यह केवल लीपापोती है। त्रिपोलिया और सर्राफा बाजार से रथ गुजरेगा लेकिन यहां भी गलियों के बाहर गड्ढों को छोड़ दिया है। मेले में रथयात्रा के अलावा भक्तों को भी परेशानी होगी।
कमल गुप्ता, महल चौक

करौली कुण्ड सड़ रहा है। सीवर का पानी नालियों में आ रहा है। कचरापात्र भरे पड़े हैं। डोर टू डोर कचरा वाहन का आना बन्द हो गया है। यहां हमेशा बदबू मिलती है।
राकेश सैनी, करोली कुण्ड

Prem Pathak Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned