टीकाकरण में पिछडऩे पर नाराजगी जताई, अस्पतालों पर विशेष फोकस के आदेश

अलवर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने टीकाकरण में अलवर के सबसे फिसड्डी रहने पर नाराजगी जाहिर करते हुए जिले के तमाम अस्पतालों को बेहतर संसाधन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

Prem Pathak

February, 1411:21 PM

अलवर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने टीकाकरण में अलवर के सबसे फिसड्डी रहने पर नाराजगी जाहिर करते हुए जिले के तमाम अस्पतालों को बेहतर संसाधन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा नि:शुल्क दवा व जांच सुविधा पर विशेष फोकस रखने को भी कहा है। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को प्रदेश के सभी जिलों के कलक्टर व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान अलवर कलक्टर को एससी, एसटी एक्ट के पीडि़तों को मुआवजा राशि तय समय पर दिलाए जाने का आदेश दिया है।

वीडियो कॉफ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री गहलोत ने अस्पतालों में संसाधन व उपकरण मुहैया कराने में कोताही नहीं बरतने, जरूरत के हिसाब से नए उपकरण की खरीद करने, पुराने उपकरणों की मरम्मत कराकर आमजन को इलाज में जल्द सुविधा मुहैया कराने को कहा।

उन्होंने अस्पतालों में निशुल्क दवा योजना में दी जाने वाली दवा की कमी के चलते लोगों की परेशानी दूर करने, निशुल्क जांच पर विशेष फोकस कर लोगों को योजना की सुविधा मुहैया कराने की जरूरत बताई। मुख्यमंत्री ने अलवर जिले में टीकाकरण की सुस्त रफ्तार पर चिंता व्यक्त कर लोगों को इसके प्रति जागरुक करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि टीकाकरण को लेकर मेवात में कुछ लोगों में फैली भ्रांति को विशेष अभियान चलाकर दूर किया जाए। अलवर जिला टीकाकरण में प्रदेश में सबसे निचले पायदान पर है, इस कारण टीकाकरण की गति को बढ़ाने के लिए जिले भर में विशेष अभियान चलाने की जरूरत बताई गई। वीसी में मुख्यमंत्री ने कहा कि गर्भवती महिलाओं के लिए टीकाकरण जरूरी है। टीकाकरण के अभाव में गर्भवती महिलाओं को मिलने वाले लाभों से वंचित होना पड़ता है। वहीं गर्भवती व बच्चों के स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

पीडि़तों को तुरंत मिले लाभ

मुख्यमंत्री ने अलवर जिले में एससी, एसटी एक्ट के प्रावधानों का पीडि़तों को तुरंत लाभ दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि एससी-एसटी एक्ट के मामलों में पुलिस व प्रशासन में गैप रहता है। इस गैप के चलते पीडि़तों को दिए जाने वाले आर्थिक लाभ में देरी होती है। पुलिस व प्रशासन ऐसे मामलों में गैप को दूर कर पीडि़तों को त्वरित आर्थिक लाभ व न्याय दिलाएं। वीडियो कॉफ्रेंसिंग के दौरान जिला कलक्टर इंद्रजीत सिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रथम रामचरण शर्मा, सीएमएचओ डॉ. ओपी मीणा सहित अन्य विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

Prem Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned