scriptCollector-SP reached the spot eight days after the destruction of the | राजगढ़ का सराय बाजार उजडऩे के आठ दिन बाद मौके पर पहुंचे कलक्टर-एसपी | Patrika News

राजगढ़ का सराय बाजार उजडऩे के आठ दिन बाद मौके पर पहुंचे कलक्टर-एसपी

एक पीडि़त को पुलिस के जबरन जीप में बैठाने का विरोध : संघर्ष समिति के लोग भी बैठे

अलवर

Updated: April 26, 2022 02:13:36 am

अलवर. राजगढ़ में 300 साल पुराना मंदिर और काफी संख्या में दुकान व मकान तोडऩे का बवाल राष्ट्रीय पटल पर छाया हुआ है। इस मामले की गूंज के बाद यहां कई बड़े नेता और मंत्री आए हैं। लेकिन जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षक राजगढ़ उजडऩे के 8 दिन बाद सोमवार को राजगढ़ मौके पर पहुंचे। राजगढ़ में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव जितेन्द्र ङ्क्षसह और केबीनेट मंत्री टीकाराम जूली भी गए लेकिन इस दिन भी मुख्यालय से प्राासनिक व पुलिस अधिकारी राजगढ़ नहीं आए। जिला कलक्टर शिवप्रसाद नकाते और पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम दोपहर साढ़े 12 बजे सराय मोहल्ले में पहुंचे और यहां टूटे गए मकान व दुकानों को देखा। यहां इसी समय अजय दीवान और देशबंधू जोशी ने इस तोडफ़ोड़ का विरोध किया और लोगों ने नगर पालिका प्राशासन के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया।
मौके पर विरोध प्रदर्शन तेज होने लगा तो पुलिस ने इन दोनों लोगों को जीप में बैठा लिया। यह देखकर संघर्ष समिति के बहुत से लोग जीप में बैठ गए। बाद में पुलिस अधीक्षक व अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने उन्हें जीप से उतरवा लिया। हालांकि इस घटनाक्रम को लेकर स्थानीय लोगों में प्रशासन के प्रति आक्रोश देखा गया। नारेबाजी भी जमकर की गई।
राजगढ़ का सराय बाजार उजडऩे के आठ दिन बाद मौके पर पहुंचे कलक्टर-एसपी
राजगढ़ का सराय बाजार उजडऩे के आठ दिन बाद मौके पर पहुंचे कलक्टर-एसपी

जनता ने कहा इतने दिन बाद क्यों आए
राजगढ़ में मौके पर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के पहुंचने पर लोगों ने विरोध कर कहा कि कस्बे में पुराना मंदिर सहित लोगों के घर तोड़ दिए और जिला मुख्यालय से जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक आठ दिन बाद आए हैं। यहां के तीन मंदिर और 125 साल पुरानी जैन समाज की धर्मशाला तोड़ दिए गए।

चौथे दिन भी जारी रहा धरना
कस्बे के सराय बाजार में राजगढ़ बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले विभिन्न मांगों को लेकर सोमवार को योगेश बंजारा, राजेश सैनी, बंटी टोडी, कुंज बिहारी कोली, लोकेश शर्मा, गिर्राज सैनी, दिनेश प्रधान, प्रकाश दीक्षित, हरिशंकर विजय आदि धरने पर बैठे।

अब बीडा कमिश्नर करेंगे जांच
राजगढ़. कस्बे के गोल सर्किल से मेला का चौराहा के मध्य तक प्राचीन भवन, मंदिर व व्यावयासिक प्रतिष्ठानों को तोडऩे के आठ दिन बाद सोमवार केा जिला कलक्टर शिवप्रसाद नकाते, जिला पुलिस अधीक्षक तेजस्विनी गौतम, भिवाड़ी बीडा के कमिश्नर रोहिताश, रामगढ़ के उपखण्ड अधिकारी कैलाश चन्द शर्मा व अन्य अधिकारियों ने प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। जिला कलक्टर नकाते शिवप्रसाद मदन ने कहा कि अतिक्रमण चिन्हित व प्रभावित लोगों से वार्ता के लिए आए हैं।

प्रशासन के खिलाफ कैण्डल मार्च
राजगढ. कस्बे के सराय बाजार स्थित धरना स्थल से राजगढ बचाओ संघर्ष समिति की ओर से स्थानीय प्रशासन के तानाशाहीपूर्ण रवैये के विरोध में सोमवार की शाम को मुख्य बाजारों से कैण्डल मार्च निकालकर स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों के विरूद्ध जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया गया। राजगढ बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक प्रकाश दीक्षित ने बताया कि राजगढ बचाओं संघर्ष समिति के बैनर तले नियम विरूद्ध तोडफोड व प्रशासन के विरोध में सराय बाजार से कैण्डल मार्च शुरू होकर गोल सर्किल, कांकवाडी बाजार, चौपड बाजार, अनाज मण्डी होते हुए पण्डित भवानी सहाय स्टेच्यू पहुंचकर मोमबत्तियां जलाकर विरोध प्रदर्शन करते हुए अधिकारियों के विरूद्ध नारेबाजी की। उसके बाद गणेश पोल पहुंच कर कैण्डल मार्च सम्पन्न हुआ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.