अलवर में बारिश के बाद खुली प्रशासन की पोल, शहर में हुई कुल इतनी बारिश

अलवर में तेज बारिश के बाद प्रशासन की पोल खुल गई। शहर के नाले उफन गए। इसके साथ ही कई जगह सडक़ें टूट गई।

By: Prem Pathak

Published: 07 Jun 2018, 08:32 AM IST

अलवर. बुधवार को तडक़े मानसून से पहले की बारिश ने शहर की सूरत बिगाड़ दी तो आगे के हालातों का अनुमान लगा सकते हैं। न केवल नालों का कचरा व कीचड़ सडक़ों व घरों के भीतर तक आ गया बल्कि जगह-जगह सडक़ें धंस गई। जिनमें दिनभर वाहन फंसते व फिसलते रहे। किसी को कोई परवाह नहीं। जनता खुद पानी के कीचड़ और फंसे वाहनों को निकालने के लिए जूझती रही।

सीवरेज लाइन व पानी की लाइन डालने के बाद सडक़ बनाने में लीपापोती करने वाले अधिकारी कहीं नजर नहीं आए। सरकार की साख जरूर धराशायी हुई है। लेकिन जनप्रतिनिधियों को भी जनता की अधिक परवाह नहीं है। तभी तो महीनों से साफ नहीं हुए नाले जाम हो गए। सडक़ों पर पानी ऐसे बहा मानो मूसलाधार बारिश हो गई। ड्रेनेज सिस्टम तो सालों से फेल है। जिसे दुरुस्त करने का प्रयास ही नहीं हुआ है।

अलवर शहर में 71 एमएम बारिश

अलवर. जिले में बुधवार सुबह हुई झमाझम से जहां लोगों को चटक गर्मी से राहत मिली, वहीं जिले के बांधों में बना पानी का सूखा भी मिट गया। हालांकि पहली बारिश में सिलीसेढ़ को छोड़ अन्य बांधों के गेज में कोई बदलाव नहीं आया, लेकिन सूखी पड़ी बांधों की धरा फिर से गीली हो गई। बुधवार को सबसे अधिक बारिश अलवर शहर में 71 एमएम रिकॉर्ड की गई। सिंचाई विभाग के अनुसार इस दौरान रामगढ़ में 25, तिजारा में 22, बहादरपुर में 33, बानसूर में 16, बहरोड़ में 29, मालाखेड़ा में 21, कोटकासिम व सिलीसेढ़ में 15-15, गोविन्दगढ़ में 8, किशनगढ़बास में 7, नीमराणा में 6 व कठूमर एवं थानागाजी में 2-2 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। वहीं, सिलीसेढ़ में पानी एक इंच बढकऱ 14 फीट 6 इंच से 14 फीट 7 इंच हो गया। इसके अलावा भी कई बांधों में पानी आ गया।

रास्ते बन्द हो गए

जहां सीवरेज लाइन डालने का काम चल रहा है वहां इतनी बदहाली हो गई कि रास्ते बन्द हो गए। चाहे तिजारा फाटक से आगे का क्षेत्र हो गया कोई दूसरी जगह। जिन जगहों पर सडक़ें नहीं बनी वहां के लोग भी घरों में कैद होकर रह गए।

Prem Pathak Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned