कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ने साधा प्रधानमंत्री पर निशाना, राज्य में उपचुनाव को लेकर कही यह बात

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव मोहन प्रकाश ने भाजपा पर निशाना साधते हुए दावा किया है कि तीनों उपचुनाव कांग्रेस ही जीतेगी।

By: Prem Pathak

Published: 26 Jan 2018, 04:13 PM IST

राज्य में हो रहे उपचुनाव में कांग्रेस अलवर ही नहीं बल्कि अजमेर व मांडलगढ़ का भी चुनाव जीतेगी। यह कहना है पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मोहन प्रकाश का। उन्होंने कहा कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह का अलवर से उपचुनाव नहीं लडऩे का खुद का फैसला है। संभवत: पार्टी उन्हे संगठन में कोई अन्य जिम्मेदारी देने की सोच रही है। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव गुरुवार को पत्रिका से बातचीत कर रहे थे। कांगेस राष्ट्रीय महासचिव मोहन प्रकाश ने कहा कि उपचुनाव में कांग्रेस की जीत का आधार सरकार के प्रति लोगों जबरदस्त नाराजगी है। प्रधानमंत्री मोदी की नीति से हर कोई कठिनाई में है। नोटबंदी व जीएसटी से छोटे कारोबारियों का व्यवसाय चौपट हो गया। किसानों को फसल का लागत मूल्य भी नहीं मिल पा रहा। नौजवान रोजगार नहीं मिल पाने से परेशान हैं। इतना ही नहीं संविधान की शपथ लेकर मंत्री बनने वाले लोग ही अब संविधान बदलने की बात कर रहे हैं। कुछ एेसे ही कारण है जिससे कांग्रेस को तीनों सीटों पर बड़ी विजय मिलेगी। उन्होंने कहा कि इन उपचुनावों में जनता का ध्रुवीकरण हो रहा है। एक तरफ सरकार के पक्ष के लोग हैं और दूसरी दुखी जनता। जब लोगों का ध्रुवीकरण होता है तो किसी पार्टी का टिक पाना संभव नहीं होता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रचार में गिरावट नहीं आई है और पार्टी तेजी से बढ़ रही है। फिल्म पदमावत पर विरोध पर उन्होंने कहा कि सभी पक्षों को साथ लेकर सौहाद्र्र का वातावरण बनाना चाहिए। सभी को कानून का पालन करना चाहिए।
‘पेट व जान के बीच चुनावी प्रबंधन’

उन्होंने कहा कि उपचुनाव मे प्रबंधन पेट व जान के बीच है। इस उपचुनाव में भाजपा कार्यकर्ता पेट बचा रहे हैं तथा कांग्रेस के कार्यकर्ता जनता की जान बचाने में जुटा है। सरकार की नीतियों के चलते आम व्यक्ति का जीना दूभर हो गया है। इसलिए जनता की जान बचाने का प्रबंधन भाजपा के पेट भरने के प्रबंधन पर भारी पड़ेगा और कांग्रेस की जीत होगी।

मुख्यमंत्री को लेकर चर्चा करने का अर्थ नहीं

मोहन प्रकाश ने कहा कि उपचुनाव में पूरी पार्टी एकजुट है। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा में भी कांग्रेस एकजुट होकर लड़ेगी। पार्टी तय करेगी कि कौन चुनाव लड़ेगा। किस को क्या जिम्मेदारी दी जाएगी यह भी पार्टी ही तय करेगी। इसलिए अभी से मुख्यमंत्री और कौन चुनाव लड़ेगा, इसकी बात करने का मतलब नहीं है। मुख्यमंत्री को लेकर पार्टी नेताओं की बयानबाजी या चर्चा का भी अभी कोई मतलब नहीं है।

Congress
Show More
Prem Pathak Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned