यहां बुजुर्गों को नहीं, युवाओं को अधिक हो रहा कोरोना

अलवर जिले में कोरोना संक्रमित 50 के पार यानी 53 तक पहुंच गए लेकिन, इनमें 50 से अधिक उम्र के मरीजों की संख्या केवल सात है। 46 में से छह मरीज 40 साल के आसपास की उम्र के हैं। बाकी अधिकतर मरीज 35 साल से कम उम्र के हैं।

By: Dharmendra Adlakha

Updated: 28 May 2020, 09:34 AM IST


अलवर जिले में कोरोना संक्रमित 50 के पार यानी 53 तक पहुंच गए लेकिन, इनमें 50 से अधिक उम्र के मरीजों की संख्या केवल सात है। 46 में से छह मरीज 40 साल के आसपास की उम्र के हैं। बाकी अधिकतर मरीज 35 साल से कम उम्र के हैं। सबसे कम उम्र का ढाई का संक्रमित बालक है। इसके अलावा नौ व 13 साल से 35 साल की उम्र के सबसे अधिक कोरोना संक्रमित हैं।

दो बुजुर्गों की मौत भी -

जिले में कठूमर के नंगला माधोपुर के बुुजुर्ग व कुटीन गांव की एक बुजुर्ग महिला की मौत हो चुकी है। दोनों की उम्र 60 साल के आसपास थी। इनके अलावा खेरली के एक दम्पति की उम्र 50 साल से अधिक है। दोनों अब ठीक हो गए। बहरोड़ के गूंती, राजगढ़ प्रधानखेड़ा, खेरली, अलवर शहर के वीरा गार्डन, काला कुआं निवासी महिला, लक्ष्मणगढ़ निवासी महिला, खेरली निवासी स्टाफ नर्स इनकी उम्र 45 साल से अधिक है। अधिकरत की 50 साल से ज्यादा है। दो बुजुर्ग महिलाएं 60 साल से अधिक हैं।
बानसूर के अधिकतर युवा -

बानसूर से आए अधिकतर कोरोना संक्रमित 21 से 35 साल के हैं। इनके अलावा ढाई साल व 14 साल के बच्चे भी संक्रमित हो चुके हैं। एक जने की उम्र 40 साल है। अधिकतर युवा होने के कारण कोरोना पॉजिटिव से नेगेटिव भी सबसे जल्दी हुए हैं। असल में जिले में अन्य जगहों से भी अधिकतर युवा लोग ही कोरोना संक्रमित हुए हैं। जिसका कारण यह है कि जिले व प्रदेश के बाहर काम करने वाला ज्यादातर युवा हैं। एक मई के बाद बाहर से आने वाले करीब 19 जने पॉजिटिव आ चुके हैं। यही नहीं कोरोना वायरस भी नियमित रूप से जिले से बाहर आने-जाने वाले लोगों के जरिए पहुंचा है। पहले वाहन चालक पॉजिटिव आए। फिर बाहर से आने वालों को छूट मिली तो उनकी संख्या बढ़ती है।

Dharmendra Adlakha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned