राजस्थान के इस सरकारी कार्यालय में चरम पर है भ्रष्टाचार, बिना पैसे दिए नहीं होता कोई भी काम! जनता परेशान

राजस्थान के इस सरकारी कार्यालय में चरम पर है भ्रष्टाचार, बिना पैसे दिए नहीं होता कोई भी काम! जनता परेशान
राजस्थान के इस सरकारी कार्यालय में चरम पर है भ्रष्टाचार, बिना पैसे दिए नहीं होता कोई भी काम! जनता परेशान

Lubhavan Joshi | Updated: 11 Oct 2019, 03:13:06 PM (IST) Alwar, Alwar, Rajasthan, India

Corruption In Rajasthan : अगर किसी को कोई छोटा-मोटा काम भी कराना हो तो अधिकारी-कर्मचारी बिना रिश्वत फाइल आगे नहीं बढ़ाते!

अलवर. Corruption In Rajasthan : भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ( Anti Corruption Bereau ) ने रीको (राजस्थान राज्य औद्योगिक विकास एवं विनियोजन निगम) कार्यालय से सेक्शन इंचार्ज को 25 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया। महिला अधिकारी ने एमआईए स्थित एक फैक्ट्री के मालिक से रेंट परमिशन जारी करने की एवज में रिश्वत मांगी थी। कार्रवाई के बाद महिला अधिकारी को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया।

यहां हर काम करने का सुविधा शुल्क

रीको कार्यालय में भ्रष्टाचार चरम पर है। बिना रिश्वत के फाइलें आगे बढऩा बंद हो गई। कई कर्मचारियों की पहले भी शिकायत होने के बावजूद हालात नहीं सुधरे। रीको अलवर व थानागाजी के उद्यमियों ने बताया कि रीको कार्यालय में प्रवेश करते ही उद्यमी असहज मसहूस करते हैं। कर्मचारी अनावश्यक रिकवरी निकाल देते हैं। फिर उनको कम करने के नामपर वसूली करते हैं। कई तरह के आदेश-निर्देश को सार्वजनिक नहीं करते, जिससे उद्यमियों को पता नहीं चलता। इसकी आड़ में मोटी रिकवरी निकाल उसे कम करने के नाम पर वसूली का खेल होता है।

भूखण्ड बेचने, नाम परिवर्तन में वसूली

उद्यमियों ने बताया कि भूखण्ड के नाम परिवर्तन कराने में लम्बा समय लेते हैं। पिछले रिकॉर्ड के अनुसार रिकवरी निकालते हैं। बीच में कोई छूट के आदेश भी आते हैं तो उसे दबा लेते हैं। थानागाजी के एक उद्यमी ने बताया कि थानागाजी का एक भूखण्ड का पंजीकरण देरी से कराया है, जिसकी रिकवरी इतनी अधिक निकाल दी कि वहन करने से बाहर हो गई। जब कर्मचारियों से बात की तो कुछ करने का आश्वासन दिया। लेकिन, फिर भी काम नहीं करते। नाम परिवर्तन कराने की फाइलें रोक कर बैठ जाते हैं। इसके अलावा कई तरह का जुर्माना लगाने के बाद राशि में कटौती करने के नाम पर मनमर्जी होती है।

60 हजार का ड्यू 10 हजार में माने

कुछ दिन पहले थानागाजी के एक भूखण्ड की 60 हजार रुपए की रिकवरी निकाल दी। जब उद्यमी बार-बार रीको कार्यालय के चक्कर काटने लगा तो आखिर में संशोधन कर 10 हजार रुपए रिकवरी निकाली। इसी तरह अधिकतर फाइलों में घालमेल है। चालू करने पर शुल्क व जुर्माने का भार जोड़ देते हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned