अलवर जिले में खूनी सडक़ें ले रही निर्दोषों की जान, एक माह हुई इतने लोगों की मौत, यहां है सबसे ज्यादा खतरा

अलवर की सडक़ें खूनी हो चुकी है। यहां एक माह में सडक़ हादसों में कई लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

By: Hiren Joshi

Published: 07 Jan 2019, 06:08 PM IST

अलवर शहर सहित आसपास की सडक़ें खूनी हो चुकी हैं। इन सडक़ों पर लगातार हादसे हो रहे हैं, जिनमें निर्दोषों की जानें जा रही हैं। पिछले करीब एक माह में इन खूनी सडक़ों पर हादसों में डेढ़ दर्जन से ज्यादा लोग का ग्रास बन चुके हैं। लगातार हो रहे इन हादसों के प्रति जिम्मेदार अफसर गैरजिम्मेदार बने हुए हैं।

लापरवाही और ट्रैफिक नियमों की जानकारी का अभाव

तेजी से बढ़ रहे सडक़ हादसों के पीछे कई कारण जिम्मेदार हैं। जिसकी वजह से लगातार हादसे हो रहे हैं। ज्यादातर वाहन चालकों को यातायात नियमों की जानकारी ही नहीं होती है। दुपहिया-चौपहिया चालक तेजगति में वाहन चलाते हैं। शराब पीकर वाहन चलाते हैं या फिर वाहन चलाते समय मोबाइल पर बात करते हैं। गलत दिशा में कट मारते हैं या फिर ओवरटेक करते हैं। इसके अलावा दुपहिया या चौपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट और सीट बेल्ट का इस्तेमाल नहीं करते हैं।

कहीं अतिक्रमण तो कहीं अवैध कट और स्पीड ब्रेकर

शहर में प्रवेश करने वाले मुख्य मार्गों पर अतिक्रमण हो रखा है, जिसके कारण सडक़ें संकरी हो गई हैं। ऐसे में ओवरटेक करते समय वाहन आपस में टकरा जाते हैं। वहीं, मार्गों पर जगह-जगह अवैध कट, गलत घुमाव और स्पीड ब्रेकर बने हुए हैं। इसके कारण जरा सी सावधानी चूकते ही हादसा घटित हो जाता है।

एक माह में 19 लोगों की मौत

-27 नवम्बर की सुबह मालवीय नगर तिराहा पर रोडवेज बस ने स्कूल जा रही पांच वर्षीय बालिका को कुचल दिया था।

- 28 नवम्बर की शाम को कृषि उपज मण्डी मोड़ पर प्याज के कट्टों से लदे ट्रोले ने बाइक सवार युवक को कुचल दिया था। हादसे में सिर कुचलने से युवक ने मौके पर ही मौत हो गई।

-2 दिसम्बर की दोपहर शहर के अम्बेडकर नगर के समीप पिकअप और बाइक की भिड़ंत हो गई, जिसमें बाइक सवार दो जनों की मौत हो गई।

-2 दिसम्बर की रात अलवर-राजगढ़ रोड पर एपीएस स्कूल के समीप दो कारों की जबरदस्त भिड़ंत हुई। हादसे में तीन लोगों की मौत हुई तथा चार जने घायल हो गए थे।

- 6 दिसम्बर को अलवर-बहरोड़ मार्ग पर डहरा गांव के समीप लोक परिवहन बस ने बाइक सवार दो छात्रों को टक्कर मार दी। हादसे में दोनों छात्रों की मौके पर ही मौत हो गई।

-8 दिसम्बर को शहर के तिजारा फाटक ओवरब्रिज पर शनिवार दोपहर एक रोडवेज चालक ने बाइक को टक्कर मारी। हादसे में बाइक सवार एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। उसका साथी घायल हो गया था।

-11 दिसम्बर की रात एमआईए थाना क्षेत्र स्थित नाहरपुर गांव के समीप अज्ञात वाहन की टक्कर से एक युवक की मौत।

-12 दिसम्बर की देर रात अलवर-दिल्ली मेगा हाइवे पर किशनगढ़बास स्थित बालाजी होटल के समीप कोहरे के कारण एक कार पीछे से ट्रक में जा घुसी। हादसे में कार में सवार अलवर के एक निजी स्कूल के तीन शिक्षक युवकों की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया।

- 13 दिसम्बर की रात एमआईए थाना क्षेत्र स्थित सहजपुर गांव के समीप कार की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत। उसका साथी युवक घायल हुआ।

-22 दिसम्बर को शहर के कला कॉलेज ओवरब्रिज पर शनिवार दोपहर एक ट्रोले ने बाइक को टायरों तले रौंद दिया। हादसे में बाइक सवार दो युवक बाल-बाल बच गए।

-24 दिसम्बर को सदर थाना क्षेत्र स्थित ठेकड़ा गांव के समीप ट्रैक्टर-ट्रॉली ने बाइक को टक्कर मारी। हादसे में एक महिला की मौत हो गई। - 27 दिसम्बर को देर शाम शहर के जेल चौराहा के समीप गुरुवार देर शाम को रोडवेज बस ने स्कूटी सवार मां-बेटी को कुचल दिया। हादसे में दोनों की मौत हो गई।

-1 जनवरी की देर शाम अलवर-जयपुर मार्ग पर ढाई पेड़ी के निकट ट्रोले ने बाइक को टक्कर मार दी। हादसे में पुलिस अधीक्षक कार्यालय के लिपिक की मौत हो गई।

 

Hiren Joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned