आदर्श पीएचसी का है यह हाल, प्रसूता ने अस्पताल परिसर में दिया बच्चे को जन्म, देखभाल के लिए नहीं था चिकित्सा स्टॉफ

आदर्श पीएचसी का है यह हाल, प्रसूता ने अस्पताल परिसर में दिया बच्चे को जन्म, देखभाल के लिए नहीं था चिकित्सा स्टॉफ

| Publish: Mar, 26 2017 07:03:00 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

अलवर जिले के नौगांवा स्थित कस्बा स्थित आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर रविवार अल सुबह प्रसूता का अस्पताल स्टाफ व चिकित्सक न मिलने के कारण परिसर में ही प्रसव हो गया।

अलवर जिले के नौगांवा स्थित कस्बा स्थित आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर रविवार अल सुबह प्रसूता का अस्पताल स्टाफ व चिकित्सक न मिलने के कारण परिसर में ही प्रसव हो गया। इससे महिला के साथ आए परिजनों सहित स्थानीय लोगों में रोष व्याप्त हो गया। वहां मौजूद लोगों ने हंगामा कर दिया। 



मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया।  अल सुबह प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर रसगण निवासी लक्ष्मी को उसके परिजन प्रसव के लिए अस्पताल लाए। सुबह अस्पताल में न डाक्टर मिला और न ही कोई नर्सिग स्टाफ मौजूद था। 



ऐसे में प्रसव पीड़ा से कराह रही लक्ष्मी का अस्पताल परिसर में ही प्रसव हो गया। इससे वहां मौजूद लोग अस्पताल स्टाफ की अनुपस्थिति को लेकर भड़क गए। उन्होंने अस्पताल प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। इससे हंगामा हो गया। 



 नौगांवा थाना प्रभारी शिवराम सिंह गुर्जर मौके पर पहुंचे और उपखण्ड अधिकारी रामगढ़ एवं बीसीएमओ को फोन पर मामले से अवगत कराया। उपखण्ड अधिकारी ने शीघ्र स्वास्थ्य केन्द्र की व्यवस्था सुधारने का आश्वासन दिया।  



जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित


 अस्पताल परिसर में हुए प्रसव में मां लक्ष्मी और बच्चा दोनों ही सुरक्षित हैं। इस प्रसव को कराने में रसगण गांव की उपसरपंच एवं गांव में दाई का कार्य करने वाली अमरो बाई ने महती भूमिका निभाई। उन्होंने मौके पर प्रसव पीड़ा झेल रही महिला को संभाला और सुरक्षित प्रसव कराया। 



आदर्श बनने के बाद भी नहीं सुधरे हालात 


अभी हाल ही में नौगांवा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को आदर्श पीएचसी का दर्जा मिला है और राज्य बजट में इसके सीएचसी बनाने की घोषणा भी हुई है। दर्जा बढऩे के बाद भी यहां की व्यवस्थाओं में कोई तब्दीली देखने को नहीं मिली। ऐसे में स्वास्थ्य केन्द्र केवल नाम का ही आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बनकर रह गया है। 



जांच कराई जाएगी


बीसीएमओ रामगढ़ डा. के के मीणा ने कहा कि मुझे मामले की जानकारी मिली है। प्रथम दृष्टया चिकित्सक एवं कर्मचारियों की लापरवाही लगती है। मामले की जांच कराई जाएगी और दोषी कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned