जिला प्रमुख पति व 26 श्रमिक पाबंद

खुशखेड़ा में होण्डा वेयर हाउस कंपनी और श्रमिकों के बीच चल रहे विवाद ने गुरुवार को नया मोड़ ले लिया। मामले में शांति भंग होने की आशंका को देखते हुए

By: कमल राजपूत

Published: 04 Dec 2015, 11:25 PM IST

तिजारा। खुशखेड़ा में होण्डा वेयर हाउस कंपनी और श्रमिकों के बीच चल रहे विवाद ने गुरुवार को नया मोड़ ले लिया। मामले में शांति भंग होने की आशंका को देखते हुए तिजारा तहसीलदार ने नोटिस भेजकर तिजारा युवा मंच के संयोजक व जिला प्रमुख पति राजू यादव और 26 श्रमिकों को छह महीने के लिए पाबंद कर दिया है।

तिजारा कार्यपालक दण्डनायक तहसीलदार नन्द किशोर तिवाड़ी ने बताया कि श्रमिकों व कम्पनी के बीच चल रहे विवाद को लेकर खुशखेड़ा एसएचओ ने क्षेत्र में शांति भंग होने की आशंका व श्रमिकों को भड़काने का इस्तगासा तिजारा तहसीलदार के सामने पेश किया। जिसको लेकर तिजारा तहसीलदार ने धारा 107 व 117 के तहत शांति भंग नहीं करने के लिए तिजारा युवा मंच के संयोजक राजू यादव व अन्य 26 श्रमिकों को 6 महीने के लिए पाबंद किए जाने का नोटिस भेजा है।

श्रमिकों ने तहसील के सामने किया प्रदर्शन
तिजारा युवा मंच के तत्वाधान में गुरुवार को कार्यकर्ताओं और श्रमिकों ने तिजारा तहसील परिसर के सामने धरना-प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद तिजारा युवा मंच के संयोजक राजू यादव के नेतृत्व में श्रमिको ने तिजारा तहसीलदार नन्दकिशोर तिवाड़ी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में श्रमिकों की मांगे नहीं माने जाने पर तिजारा युवा मंच की ओर से जिला कलक्टर कार्यालय अलवर के सामने अनिश्चितकालीन अनशन करने की चेतावनी दी गई। धरना प्रदर्शन करने वालों में कमलेश सैनी, देशपाल यादव सहित कई श्रमिक मौजूद थे।

 नोटिस नहीं मिला
 उन्हें अभी तक कोई नोटिस प्राप्त नहीं हुआ है। श्रमिकों व बेरोजगारों के हित के लिए आवाज उठाई जाएगी।
 राजू यादव, संयोजक, तिजारा युवा मंच
कमल राजपूत Content Writing
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned