अलवर. राजस्थान पत्रिका के अलवर संस्करण में बुधवार को सामान्य चिकित्सालय के वार्डो में बैड पर तथा विश्राम स्थल में मरीजों के परिजनों के साथ श्वानके सोने की खबर प्रकाशित होने के बाद चिकित्सा विभाग हरकत में आ गया। उसके निर्देश पर नगर परिषद के दस्ते ने बुधवार को अस्पताल में विचरने वाले श्वान को पकड़ लिया। दस्ता करीब आधा दर्जन श्वान को पकडकर ले गया। श्वान के पकडने की कार्रवाई को देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट गई।
अस्पताल के पीएमओ डाक्टर सुनील चौहान ने बताया कि तीन दिन पहले ही नगर परिषद को श्वान व बंदरों को पकडने के लिए पत्र लिखा था।

कार्रवाई नहीं होने पर फिर से नगर परिषद कमिश्नर को श्वान को पकडने के लिए पत्र भेजा गया। चौहान के अनुसार पकडऩे के दौरान कई श्वान इधर-उधर हो गए। उन्हें पकडऩे के लिए अभी कार्रवाई जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि श्वान का प्रवेश रोकने के लिए सुरक्षा गार्डों की संख्या बढ़ी दी गई है।
अस्पताल में खिड़कियों के टूटे हुए शीशों को सही कराया जाएगा। इसके लिए देखरेख करने वाले कर्मचारी को पाबंद किया गया है।


अलवर. राजस्थान पत्रिका के अलवर संस्करण में बुधवार को सामान्य चिकित्सालय के वार्डो में बैड पर तथा विश्राम स्थल में मरीजों के परिजनों के साथ कुत्तों के सोने की खबर प्रकाशित होने के बाद चिकित्सा विभाग हरकत में आ गया। उसके निर्देश पर नगर परिषद के दस्ते ने बुधवार को अस्पताल में विचरने वाले कुत्तों को पकड़ लिया। दस्ता करीब आधा दर्जन कुत्तों को पकडकर ले गया। कुत्तों के पकडने की कार्रवाई को देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट गई।
अस्पताल के पीएमओ डाक्टर सुनील चौहान ने बताया कि तीन दिन पहले ही नगर परिषद को कुत्तों व बंदरों को पकडने के लिए पत्र लिखा था।

कार्रवाई नहीं होने पर फिर से नगर परिषद कमिश्नर को कुत्तों को पकडने के लिए पत्र भेजा गया। चौहान के अनुसार पकडऩे के दौरान कई कुत्ते इधर-उधर हो गए। उन्हें पकडऩे के लिए अभी कार्रवाई जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि कुत्तों का प्रवेश रोकने के लिए सुरक्षा गार्डों की संख्या बढ़ी दी गई है।
अस्पताल में खिड़कियों के टूटे हुए शीशों को सही कराया जाएगा। इसके लिए देखरेख करने वाले कर्मचारी को पाबंद किया गया है।

[MORE_ADVERTISE1][MORE_ADVERTISE2]

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned