Crime in Alwar चालक को बंधक बना हथियारबंद लुटेरे लूट ले गए ट्रोला

चालक को बंधक बना हथियारबंद लुटेरे लूट ले गए ट्रोला

By: Kailash

Updated: 05 Sep 2019, 06:01 PM IST

बना डाल गए कपास के खेत में
शाहजहांपुर. बर्डोद- शाहजहांपुर मार्ग पर रीको नाला चौराहे पर मंगलवार मध्य रात्रि कार में सवार पांच हथियारबंद लुटरों ने बंदूक दिखाकर क्रेसर से भरे ट्रोले को लूट ले गए। वहीं चालक को बंधक बना समीप के कपास के खेत में आंख पर पट्टी व हाथ-पैरों को बांध पटक गए। कुछ दूर जाकर ट्रोले में भरी क्रेसर को मोलावास की और नाला मार्ग पर ही खाली कर ट्रोले को लेकर फरार हो गए। कपास के खेत से बंधक मुक्त होकर चालक ने फौलादपुर निवासी घासीराम यादव के मकान पर पहुंच घटना की जानकारी दी।
स्थानीय थाना पुलिस एवं रात्रि को ही घटना की सूचना पाने वाले फौलादपुर निवासी घासीराम यादव ने बताया कि मंगलवार मध्य रात्रि करीब डेढ़ बजे सडक के समीप स्थित मकानों के बाहर सो रहे उसके बडे पुत्र अनिल यादव को कोटपूतली निवासी सत्यवीर गुर्जर पुत्र रामजीलाल गुर्जर ने आकर जगाते हुए लूट की आपबीति घटना बताना चाहा। जिस पर अनिल ने पूरे परिवार को जगाकर अनजान व्यक्ति से गहनता से पूछताछ की। ओर मामले की जानकारी जुटाई। उसके बाद ट्रोले मालिक को सूचना दी।
बमुश्किल बचा ट्रोला चालक
ट्रोले की लूट की घटना को अंजाम देते समय क्रेसर से भरे ट्रोले को रीको नाला मोलावास मार्ग पर खाली करने का प्रयास किया गया। इसी मार्ग पर क्रेसर खाली करने वाले स्थान से महज ५-७ फीट आगे ही ३३ हजार केवी हाईटेंशन विद्युत लाइन गुजर रही थी। कुछ ही दूरी आगे यदि ट्रोले का क्रेसर खाली करने के लिए ट्रोली उठाई गई होती तो लोहे की सम्पूर्ण बॉडी युक्त ट्रोले में हाईटेंशन करंट प्रवाहित हो जाता। जिससे बड़ा हादसा हो सकता था। वहीं दूसरी और लुटरों के बंधन से स्वयं के स्तर पर ही मुक्त हो सड़क किनारे बने फौलादपुर निवासी घासीराम यादव के मकान में पहुंचने पर उनका पालपू कुत्ता रात्रि के समय अकस्मात ही बंधा हुआ था। यदि कुत्ता खुल्ला होता तो भयानक रूप का पालतू कुत्ते की चपट में आने से भी बडा हादसा हो सकता था। लूटे गये ट्रोले के लुटरों एवं चालक के बडे हादसे से बच जाने की चर्चा ग्रामीणों के बीच खाशी रही।
कार में आए थे पूछताछ में उसने अपने आप को ट्रोला चालक बताते हुए बताया कि उसे रीको नाला के समीप चौहारे पर क्रेसर से भरे ट्रोले को स्विफ्ट कार में सवार पांच हथियारबंद बदमाशों ने कार आगे लगाकर रूकवा लिया। ट्रोला रोकते ही बंदूक कनपटी पर लगा ड्राईवर सीट से नीचे गिरा कार में पटक लिया। लुटरों ने चद्दर की कतरक बना उसके आंख पर पट्टी बांधकर हाथ-पैर भी बांध दिए। तथा समीप ही एक कपास के खेत में पटक गये। घासीराम व उसके परिजनों ने चालक की आपबीति उसके बताये पते पर ट्रोला मालिक बावल निवासी उदिया जाट व संबन्धित ट्रांस्पोर्टरों से वार्ता करा मौके पर बुलवाकर पुलिस को सूचना दी। सूचना पर मौके पर पहुंचे परिजन व पुलिस रात्रि को ही चालक को साथ ले गये।

Kailash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned