फुटपाथों पर कब्जे, परिषद की कार्रवाई बेअसर, रेहड़ी पटरी वालों से रोजाना लिए जाते हैं पैसे

फुटपाथों पर कब्जे, परिषद की कार्रवाई बेअसर, रेहड़ी पटरी वालों से रोजाना लिए जाते हैं पैसे

| Publish: Apr, 27 2017 06:40:00 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

भिवाड़ी. औद्योगिक नगरी की सड़कों पर अतिक्रमियों का कब्जा है। शहर की सड़क पर दोनों ओर हो रहे अतिक्रमण से रास्ते जाम हो रहे हैं। जिससे यातायात की व्यवस्था ठप्प पड़ जाती है।

भिवाड़ी. औद्योगिक नगरी की सड़कों पर अतिक्रमियों का कब्जा है। शहर की सड़क पर दोनों ओर हो रहे अतिक्रमण से रास्ते जाम हो रहे हैं। जिससे यातायात की व्यवस्था ठप्प पड़ जाती है। फुटपाथ पर अतिक्रमण से भले ही परेशानी होती हो लेकिन इन अस्थायी दुकानों से बहुतों के वारे-न्यारे हो रहे हैं। 



भिवाड़ी नगर परिषद क्षेत्र में ऐसे दर्जनों भाई लोग हैं, जिन्हें फुटपाथ पर लगने वाली दुकानों से मोटा मुनाफा हो रहा है। इन्हीं भाई लोगों की शह पर फुटपाथों पर अतिक्रमण हो रहा है।  



नगर परिषद की ओर से शहर में बार-बार अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की जाती है। बड़ी मात्रा में सामान को भी जब्त किया जाता है। लेकिन शहर की सड़कों पर अतिक्रमण बरकरार है। परिषद जब सुबह अतिक्रमण हटाती है तो शाम को दोबारा से दुकानें लग जाती हैं और शाम को अतिक्रमण हटाने पर सुबह बाजार सज जाते हैं। 




आखिर ऐसा क्यों हो रहा है। अतिक्रमण करने वालों के हौसले इतने बुलंद क्यों हो रहे हैं कि परिषद की कार्रवाई भी बेअसर साबित हो रही है। बार-बार के नुकसान के बाद भी फुटपाथ पर रखकर सामान बेचा जा रहा है। इसका बड़ा कारण फुटपाथों से रोजाना पैसा उगाने वाले भाई लोग हैं। जो कि फुटपाथ पर दुकान की जगह के हिसाब से रोजाना पैसा उगाते हैं।



 भिवाड़ी पुलिस की ओर से भी कई बार ऐसे लोगों पर कार्रवाई की जा चुकी है। गौरवपथ पर लगने वाली फुटपाथ से पैसे उगाने के मामले में यूआईटी थाने में नामजद मुकदमा दर्ज है। जिसमें कुछ आरोपियों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है। गौरवपथ पर सक्रिय गैंग लंबे समय से उगाही कर रही थी। जब गैंग ने एकाएक पैसे बढ़ा दिए तो फुटपाथियों ने विरोध किया। फुटपाथियों के विरोध पर गैंग ने मारपीट की। तब जाकर मामला थाने तक पहुंचा। 




ऐसा ही हाल शहर के अन्य सड़कों पर लग रही अतिक्रमण दुकानों का है। यहां के रेहड़ी-पटरी वाले भी रोजाना हिस्सा देते हैं। नगर परिषद की कार्रवाई के बाद ये लोग स्वयं खड़े होकर दोबारा से दुकान लगवाते हैं। जिसकी वजह से रेहड़ी-पटरी वाले इन्हें समझते रहते हैं। लेकिन इन लोगों की आपसी समझदारी से शहर की सड़कों का हाल बेहाल हो रहा है। लोगों के निकलने के लिए रास्ता नहीं बचता। 



नगर परिषद कब करेगी आवंटन


नगरीय विकास विभाग की ओर से शहरी क्षेत्र में रेहड़ी पटरी वालों को सामान बेचने के लिए निश्चित जगह का आवंटन किया जाना है। जिसके लिए नगर परिषद ने क्षेत्र में फॉर्म भी भरवाए हैं। एक बार जगह आवंटन के बाद फुटपाथ अतिक्रमण मुक्त हो सकते हैं। 



करेंगे कार्रवाई


पुलिस उपाधीक्षक सिद्धांत शर्मा ने कहा कि अतिक्रमण करने वालों पर पुलिस जाब्ता की मदद से कार्रवाई कराएगी जाएगी। सड़कों पर अतिक्रमण न हो इसके लिए सतत निगरानी टीम गठित की जाएगी। फुटपाथियों से पैसा लेने वालों पर भी चिन्हित कर कार्रवाई की जाएगी। 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned