scriptFather laborer.. daughter is grooming the future of weak students | पिता मजदूर.. बेटी बीएड के साथ कमजोर विद्यार्थियों का संवार रही भविष्य | Patrika News

पिता मजदूर.. बेटी बीएड के साथ कमजोर विद्यार्थियों का संवार रही भविष्य

अलवर जिले के राजगढ़ के समीप खरखड़ा गांव में एक मजदूर की बेटी शाम को पढ़ाई में कमजोर विद्यार्थियों को पढ़ाती है। वे घर में सबसे बड़ी हैं जिस पर परिवार की भी जिम्मेवारी है।

अलवर

Published: August 02, 2022 10:38:11 pm

पिता मजदूर.. बेटी बीएड के साथ कमजोर विद्यार्थियों का संवार रही भविष्य
परिवार चलाने के लिए ब्यूटी पार्लर भी कर रही संचालित

अलवर. जिले के राजगढ़ के समीप खरखड़ा गांव में एक मजदूर की बेटी शाम को पढ़ाई में कमजोर विद्यार्थियों को पढ़ाती है। वे घर में सबसे बड़ी हैं जिस पर परिवार की भी जिम्मेवारी है।
पिता मजदूर.. बेटी बीएड के साथ कमजोर विद्यार्थियों का संवार रही भविष्य
पिता मजदूर.. बेटी बीएड के साथ कमजोर विद्यार्थियों का संवार रही भविष्य
खरखड़ा निवासी मोनिका वर्मा शाम होते ही गांव में अपने घर पर आस-पास के बच्चों को शिफ्टों के अनुसार पढ़ाती है। ये वो बच्चे हैं जो दिन में सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं लेकिन कोरोना के कारण वे मूल धारा में नहीं जुड़ पाए हैं। ऐसे में यह युवती सहजता में खेल व कई प्रतियोगिताओं के माध्यम से इन बच्चों को पढ़ाती हैं। इनका सहयोग राज्य स्तरीय पुरस्कार प्राप्त शिक्षिका आशा सुमन करती हैं। ये बच्चों को इस तरह पढ़ाती हैं कि यहां शाम को प्रतिदिन बच्चे दौड़ते हुए चले आते हैं। बच्चे इनको दीदी...दीदी कहकर बुलाते हैं।
बीएड की ट्रेनिंग, ब्यूटी पार्लर और बाद में निशुल्क कक्षाएंमोनिका वर्मा के पिता उमाशंकर मजदूरी करते हैं। इनके दो भाई इनसे छोटे हैं जो पढ़ रहे हैं।ऐसे में यह पहले बीएड कॉलेज जाती हैं। वहां से आकर अपने घर पर पड़ौस के एक कमरे में ब्यूटी पार्लर चलाती है। इस आय से वह स्वयं पढ़ती है और परिवार में सहयोग करती है। अंधेरा होते ही उसके घर में बच्चे अपनी किताबें लेकर पहुंच जाते हैं। ये कक्षाएं ब्यूटी पार्लर में ही चलाती हैं जिसमें बच्चे बाहर तक बैठ जाते हैं। ये वो बच्चे हैं जिनके घर में इनके माता-पिता भी पढ़े लिखे नहीं है। ऐसे में इनको घर में कोई नहीं पढ़ाता है।
मेरा फर्ज है, कोई बच्चा कमजोर नहीं रहे

मोनिका कहती हैं कि मेरा यह फर्ज है कि हमारे आस-पास रहने वाला कोई भी बच्चा कमजोर नहीं रहे। इसके लिए हम क्या कर सकते हैं। हम उनको ज्ञान के माध्यम से मुख्य धारा में तो जोड़ सकते हैं। कोरोना में इन बच्चों की पढ़ाई छूट गई थी और उनके ड्राप आउट होने का खतरा हो गया था। अब ये रोज शाम होते ही भागे चले आते हैं। अब ये खूब पढ़ने लगे हैं। मुझे लगता है कि मेरी मेहनत सफल हो गई। इस काम में आर्थिक संसाधन आपको रोक नहीं सकते। बस आपका एक जज्बा ना जाने कितनी जिंदगी बदल दें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें Listबिहार कैबिनेट में अगड़ी जातियों का दबदबा खत्म, भूमिहार से 2 तो ब्राह्मण से मात्र 1 मंत्री, यादव से सबसे अधिक 8 मंत्रीगुजरात में कांग्रेस को बड़ा झटका, 6 MLA बीजेपी में हो सकते हैं शामिलTarget Killing In Kashmir: 'मोदी सरकार कश्मीरी पंडितों की हिफाजत करने में हुई फेल', AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसीJammu-Kashmir: शोपियां में नाम पूछकर आतंकियों ने कश्मीरी पंडितों पर बरसाईं गोलियां, एक की मौत, लश्कर फ्रंट ने ली जिम्मेदारीशर्मनाक हरकत : शव को अस्पताल ले जाने मांगी मदद, तो नगर पंचायत ने भेज दी कचरा गाड़ीJammu-Kashmir: पहलगाम में 39 ITBP जवानों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 7 जवान शहीद, अमित शाह ने जताया दुखKejriwal Press Conference: केजरीवाल ने बताया कैसे बनेगा देश का हर गरीब अमीर, इन 4 बड़े कामों पर दिया जोर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.