गौशालाओं सहित गोवंश की सहायतार्थ किए वादे, चार साल से नजरअंदाज

जिला स्तरीय गौशाला समिति पदाधिकारियों की बैठक का आयोजन मंगलवार को मुण्डनवाड़ा खुर्द स्थित बाबा खेतानाथ गौशाला परिसर में हुई।

By: Rajiv Goyal

Published: 04 Jan 2018, 01:29 AM IST

अलवर. जिला स्तरीय गौशाला समिति पदाधिकारियों की बैठक का आयोजन मंगलवार को मुण्डनवाड़ा खुर्द स्थित बाबा खेतानाथ गौशाला परिसर में राजस्थान गोसेवा समिति प्रदेशाध्यक्ष महन्त दिनेश गिरी महाराज के नेतृत्व में हुई। जिसमें सार्वजनिक गौशालाओं के लिए राज्य सरकार के असहयोगात्मक रवैये व चुनावी घोषणा पत्र के मुताबिक अंशदान नहीं देने पर पीड़ा जताई।


बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेशाध्यक्ष ने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए बताया कि 2013 के चुनावी घोषणा पत्र में गौशालाओं सहित गोवंश की सहायतार्थ किए वादों को चार साल से नजरअंदाज किया जा रहा है। राज्य सरकार द्वारा वर्ष भर में 9 माह का अनुदान गोवंश के लिए दिया जाना था, जो मात्र तीन माह का ही अनुदान मिलने से गोशालाओं की आर्थिक व्यवस्था चरमरा गई है और गोवंश के लिए चारे का संकट गहरा गया है।


गौशाला समिति जिलाध्यक्ष रामनिवास यादव ने सार्वजनिक गोशालाओं में व्याप्त समस्याओं के अन्तर्गत गोचर भूमि में बनी गोशालाओं की भूमि को गोशाला समिति के नाम पंजीकृत करने की आवश्यकता बताई। जिससे कि विधायक, सांसद व राज्य सरकार के अन्य मदों से भवन निर्माण व अन्य सुविधाओं के लिए बजट राशि स्वीकृत कराई जा सके। वहीं, राज्य सरकार द्वारा गोवंश चारा अनुदान 9 माह का दिए जाने की मांग की। साथ ही गोशालाओं के आसपास की गोचर जमीन को गोशाला समिति के नाम कर विद्युत कृषि कनेक्शन की सुविधा मुहैया करा चारे की व्यवस्था के लिए खेती करने योग्य सुविधाओं से गोशाला समिति को स्वावलंबी बनाने मे सहयोग की अपील की गई।


बैठक में राज्य सरकार की नीतियों के विरोध में ९ जनवरी को जिला कलक्टर को जिलेभर के सभी गोशालाओं के अध्यक्षों व पदाधिकारियों की मौजूदगी में ज्ञापन सौंपने का निर्णय लिया गया। साथ ही मांगों के पूरा नहीं होने पर राज्य स्तरीय आंदोलन की रणनीति बनाने पर भी विचार किया गया।

बैठक में धोकलनाथ आश्रम के महन्त योगेन्द्रनाथ, रूंद हनुमान मन्दिर के महन्त धर्मगिरी महाराज, मानव जाग्रति मंच के जगमालङ्क्षसह यादव, जिला उपाध्यक्ष देवेन्द्र यादव, पूर्व जिला पार्षद बस्तीराम यादव, घासीराम कारोडा, ओमप्रकाश यादव, रामनिवास, भोलूराम यादव, प्रहलादङ्क्षसह यादव, अमरङ्क्षसह, समाजसेवी दलीप यादव, मुण्डनवाड़ा कलां सरपंच मनोरमादेवी यादव, नम्बरदार सुबेङ्क्षसह दुघेडिया, जगमालङ्क्षसह यादव व निहालसिंह यादव सहित बड़ी संख्या में क्षेत्र के ग्रामीण व जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

महिलाओं की भागीदारी जरुरी

गोशालाओं के संचालन में महिलाओं की भागीदारी सर्वोपरी है। महिलाओं का निरन्तर सहयोग मिलने से गोवंश को समुचित सुविधाएं मुहैया करा पाना आसान हो सकता है। ये बात मुण्डनवाडा खुर्द स्थित बाबा खेतानाथ गोशाला परिसर में स्थानीय गांव की महिला मण्डल द्वारा गोवंश सेवार्थ 81 मन अनाज व 21 हजार रुपए का आर्थिक सहयोग समिति को प्रदान कर यज्ञ के आयोजन अवसर पर जिला अध्यक्ष रामनिवास थानेदार ने कही।

स्थानीय गांव की महिला मण्डल पदाधिकारियों ने घर-घर से अनाज व धनराशि एकत्रित कर गोशाला समिति को दान किया। वहीं, यज्ञ हवन के साथ गोमाता पर आधारित मनमोहक भजनों की प्रस्तुतियां भी पेश की। इस मौके पर मुण्डनवाडा कलां सरपंच मनोरमा देवी, बिमला देवी, बालादेवी, रामरती, सुनीता, अरुणा, संतरा व पूनम सहित ग्रामीण मौजूद थे।

Show More
Rajiv Goyal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned