सीसीटीवी कैमरों की मदद से हुआ लूट की वारदात का खुलासा, चार आरोपित पकड़े

सीसीटीवी कैमरों की मदद से हुआ लूट की वारदात का खुलासा, चार आरोपित पकड़े

| Publish: Mar, 28 2017 07:49:00 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

अलवर जिले की बहरोड़ पुलिस ने हाइवे पर 26 मार्च रात को 2 बजे गूती पुलिया के पास पतंजली कम्पनी के सामान से भरी कैन्ट्रा को लूटने की घटना का खुलासा कर दिया। पुलिस को सीसीटीवी कैमरों की मदद से वारदात की गुत्थी सुलझाने में मदद मिली।

अलवर जिले की बहरोड़ पुलिस ने हाइवे पर 26 मार्च रात को 2 बजे गूती पुलिया के पास पतंजली कम्पनी के सामान से भरी कैन्ट्रा को लूटने की घटना का खुलासा कर दिया। पुलिस को सीसीटीवी कैमरों की मदद से वारदात की गुत्थी सुलझाने में मदद मिली।



 बदमाशों ने केन्ट्रा के सामने पिक अप गाड़ी लगाकर ड्राइवर के साथ मारपीट की और लूट की वारदात को अंजाम दिया था। थाना प्रभारी रमेश सिनसिनवार ने बताया नाकेबंदी कर जांच अभियान चलाया गया। थाना स्तर पर टीम गठित टीम ने त्वरित कार्रवाई चार आरोपितों को धर दबोचा।



 आरोपितों में नया गांव चक नम्बर 2 थाना नीमराणा  निवासी प्रवीण कुमार उर्फ मेवड़ा पुत्र महावीर प्रसाद, काठ का माजरा नीमराणा बलवान उर्फ बिल्लू पुत्र सुबे सिंह, नीमराणा निवासी सन्नी पुत्र  मूलचन्द धानक, नीमराणा निवासी मनोज उर्फ मौजा पुत्र शेर सिंह राजपूत  को मय लोडेड पिस्तौल हथियार व चोरी की बाइक के साथ गिरफ्तार किया है।



 पुलिस ने तथा लूटी केन्ट्रा और पतंजली कम्पनी के सामान को बरामद किया। बरामद माल व वाहन की कीमत लगभग 30 लाख रुपए है। आरोपितों से अन्य वारदात खुलने की सम्भावना है। आरोपितों को बुधवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा। 



आरोपितों ने लूटे गए वाहन को कस्बे की इन्द्रा कालोनी में छु़पा दिया था और आधा सामान भी उतार लिया था। पुलिस ने लूट के बाद सीसीटीवी कैमरों को खंगाला तो अहम सुराग हाथ लगे। संदिग्धों सेे पूछताछ की तो सारी वारदात खुल गई। एक आरोपित फरार है जिसकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।


राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned