अलवर के नीमराणा स्थित फर्नीचर कंपनी में लगी भीषण आग, 250 लोगों ने भागकर बचाई जान, आठ घंटे बाद आग पर पाया काबू

अलवर जिले के नीमराणा स्थित फर्नीचर कंपनी में बुधवार को आग लग गई। आग बुझाने के लिए हरियाणा समेत अन्य कस्बों से एक दर्जन से ज्यादा दमकल की गाड़ियां बुलाई गई।

By: Lubhavan

Published: 13 Oct 2021, 07:54 PM IST

अलवर. जिले के नीमराणा औद्योगिक क्षेत्र के इंडियन जॉन फेज वन स्थित फर्नीचर बनाने वाली आरआर इंडस्ट्रीज में बुधवार सुबह करीब दस बजे अज्ञात कारणों के चलते भयंकर आग लग गई। सुबह कंपनी से धुआं उठता है देख कर कंपनी में काम कर रहे कर्मचारियों व आसपास के लोगों ने आगजनी की घटना की सूचना नीमराणा फायर स्टेशन को दी गई, लेकिन वहां पर खड़ी तीन चार दमकल की गाडिय़ां खराब खड़ी होने के कारण समय पर नहीं पहुंच सकी ओर समय पर रेस्क्यू नहीं होने आग ने तेजी से विकराल रूप धारण कर लिया।

ऐसे में आगजनी की घटना की सूचना बहरोड़ नगरपालिका की दमकल गाड़ी को दी गई। जिसके बाद सूचना मिलते ही बहरोड़ नगर पालिका दमकल की एक गाड़ी सुबह ग्यारह बजे मौके पर पहुंची ओर आग पर काबू पाने के प्रयास किए गए, लेकिन जब तक दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंची तो कम्पनी के प्रोडक्सन हाउस, गोदाम व कम्पनी के अधिकतर हिस्से में आग तेजी से फैल गई।

हरियाणा एवं अलवर से मंगाई दमकल

दमकल की एक गाड़ी होने के कारण आगजनी की घटना पर काबू नहीं पाया जा सका तो फिर अलवर, भिवाड़ी, खुशखेड़ा, कोटपूतली व हरियाणा आदि अन्य जगहों से दमकल की करीब एक दर्जन गाडिय़ां बुलाई तब जाकर दोपहर करीब तीन बजे बाद जाकर आगजनी की घटना पर काबू पाया जा सका। हालांकि अभी भी आग सुलग ही रही थी।

आग के समय कम्पनी में काम कर रहे थे 250 मजदूर

कंपनी में सुबह करीब दो सौ ढाई सौ मजदूर कार्य कर रहे थे। गनीमत ये रही की पड़ोस की कंपनी से आये लोगों व आरआर कंपनी के अधिकारियों ने प्लांट से सब मजदूरों को बाहर निकाल लिया। जिससे घटना में कोई जन हानि नहीं हुई। प्रचंड आग से कम्पनी गोदाम में तैयार रखा दो दर्जन से अधिक कंटेनर तैयार व अन्य कच्चा पक्का माल जल कर राख हो गया। वहीं आग से प्लांट का आधा हिस्सा भी धराशाही होकर नष्ट हो गया।
प्राप्त जानकारी अनुसार आरआर क पनी में सुबह की शिफ्ट में करीब ढाई सौ मजदूर काम कर रहे थे।जैसे ही क पनी में आग लगी तो सूचना मिलते ही पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुँचे तथा मजदूरों को सकुशल बाहर निकाला।

कंपनी में बनता है फर्नीचर

आरआर कंपनी में फर्नीचर बनाने का कार्य किया जाता है। प्रथम दृष्टया बताया जा रहा है कि गोदाम के पास कंपनी के पैकेजिंग यूनिट में पेकिंग फोम में कहीं शार्ट सर्किट या अन्य कारण से आग लगी थी जो ठीक ढंग ओर समय से रेस्क्यू नहीं होने से प्लांट में तेजी से फेल गई। कंपनी के कर्मचारी ने बताया कि यहाँ से फर्नीचर बनकर बाहर देशों में एक्सपोर्ट किया जाता है। बुधवार को भी कंपनी में करीब दो दर्जन से अधिक कन्टेनर फर्नीचर बनकर तैयार था जोकि बाहर जाना था।

कैमिकल भरे ड्रम उठा किए अलग नही हो सकता था बड़ा हादसा..

कम्पनी में रखे कैमिकल के ड्रम जोकि जिस जगह पर आग लगी हुई थी उसके पास ही पड़े हुए थे। जिन्हें मजदूरों व दमकल कर्मियों ने आग से बचाते हुए दूर बाहर कर दिए ताकि आगजनी की घटना बड़े स्तर पर नहीं फैले ओर आसपास की अन्य फैक्ट्रियों व साथ लगती रीको आवासीय कॉलोनी को अपनी जद में नहीं ले सके। ड्रम आग पकड़ से दूर नहीं होते तो हो जाता बड़ा हादसा।

पास ही स्थित है हाउसिंग सोसायटी

वहीं नीमराणा औद्योगिक क्षेत्र में जहां पर बुधवार को आगजनी की घटना हुई उसके पास ही एक बड़ी हाउसिंग सोसायटी स्थित है और स्थानीय वाहन चालकों व पैदल राहगीरों का आना जाना लगा रहता है।

दोपहर बाहर बजे बाद अन्य जगह से आई दमकल की गाडिय़ां

औद्योगिक क्षेत्र में हुई आगजनी की घटना पर काबू पाने के लिए सुबह ग्यारह बजे सिर्फ बहरोड़ नगरपालिका की दमकल ही पहुंच सकी तो वहीं दूसरी ओर अन्य जगहों से दमकल की गाडिय़ां दोपहर बारह से दो बजे तक आती रही। जिसके चलते दो

Lubhavan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned