राजस्थान में यहां आंधी-तूफ़ान ने मचाई तबाही, टोल प्लाजा पर खड़ा ट्रक पलटा, मकान ढहने से युवक की मौत

भिवाड़ी में बारिश के साथ तेज हवाओं और तूफ़ान ने भारी तबाही मचाई है, सैकड़ों पोल गिरने के साथ मकान ढह गए, इससे एक व्यक्ति की मौत हो गई

By: Lubhavan

Published: 30 May 2020, 11:41 AM IST

अलवर. लगातार पड़ रही तेज गर्मी से बढ़ते तापमान को तो शुक्रवार शाम आए तूफान ने ठण्डा कर दिया, लेकिन साथ में कई जगह पर लोगों को जख्म भी दे गया। अलवर जिले की उद्योग नगरी भिवाड़ी में तूफान का ऊफान एक बार में शांत नहीं हुआ। उसका कहर तीन-चार चरणों तक चला। इस दौरान तेज हवा के साथ बारिश और ओले गिरे। कई जगह बैर के आकार के तो कई जगह सौ से डेढ़ सौ ग्राम तक के ओले गिरे।

तूफान के दौरान टपूकड़ा के पास बूबकाहेड़ा में एक युवक की जान चली गई तो कई जगह मकानों की दीवारें, पेड़, बिजली के खम्भे, टीन-टप्पर, तिरपाल आदि गिर गए। निचले इलाकों में पानी भर गया, तो कई मार्गों पर पेड़ गिरने से आवागमन भी प्रभावित हो गया। टपूकड़ा के पास मसीद गांव में एक बकरी मर गई तथा एक भैंस घायल हो गई। कई जगह पक्षी भी काल का ग्रास बन गए।
क्षेत्र में सुबह से ही मौसम का मिजाज बदला नजर आ रहा था। दोपहर तक कुछ गर्म तो कुछ शीतल हवा के झोके चल रहे थे। दोपहर बाद एकाएक काली घटाएं छाने के साथ गर्जना शुरू हो गई। भिवाड़ी में शाम करीब पौने पांच बजे तेज हवा के साथ बारिश शुरू हुई। इस दौरान एक मिनट तक बैर के आकार के ओले गिरे। इस दौरान करीब आधा घंटे तक मूसलाधार बारिश तेज हवा के साथ होती रही।

फिर बूंदाबांदी के बाद छह बजे फिर करीब 20 मिनट तक तेज हवा के साथ बारिश हुई। इसके बाद रिमझिम बारिश होती रही। तीसरे चरण में करीब सात बजे फिर तेज बारिश आई। बारिश से हालांकि मौसम ठण्डा हो गया, लेकिन अलवर बाइपास धारूहेड़ा मोड़ पर पानी भर जाने से आवागमन बाधित रहा। बारिश के दौरान काले बादलों से अंधेरा छा गया। वाहनों को भी हैडलाइट जलाकर धीमी गति से गुजरना पड़ा।

मकान ढहा, दबने से एक की मौत

टपूकड़ा. तेज हवा के साथ क्षेत्र में 50 से 70 ग्राम के ओले गिरे। थोड़ी ही देर में गलियों व नालियों से बरसाती पानी सडक़ों पर बहने लगा। थाना क्षेत्र के गांव बुबकाहेड़ा में मकान की दीवार गिरने से मलबे में दबकर एक युवक की मौत हो गई। सूचना पर टपूकड़ा पुलिस ने पहुंची और शव को टपूकड़ा सीएचसी की मोर्चरी में पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस के अनुसार मृतक बुबकाहेड़ा निवासी हिबजू (27) पुत्र मुहिन खान है। वह शाम को अपने मकान की छत पर बने कमरे में चारपाई पर सो रहा था। शाम को आए अन्धड़ में मकान दीवार भरभराकर ढह गई और हिबजू मलबे में दब गया। दीवार गिरने की आवाज सुनकर बगल के घर में मौजूद परिवार के लोग पहुंचे और मलबा हटाकर उसे निकाला, लेकिन उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

Heavy Rainfall And Storm In Bhiwadi City Of Alwar

तेज अंधड़ से टोल प्लाजा पर खड़ा ट्रक पलटा

तेज अंधड़, बारिश व ओलावृष्टि से क्षेत्र में टीन शेड व हॉर्डिंंग सहित दर्जनों पेड़ एवं बिजली के पोल धराशायी हो गए। बीरनवास स्थित टोल प्लाजा पर खड़ा ट्रक्र तेज अंधड़ का वेग नहीं झेल सका और पलट गया। हालांकि वहां मौजूद लोग एवं टोल प्लाजाकर्मी बाल-बाल बच गए, जिससे बड़ा हादसा होते-होते टल गया। देर शाम तक रुक-रुक कर बरसात का दौर जारी रहा। ग्रामीण क्षेत्रों की विद्युत व्यवस्था ठप रही। जिससे अंधेरा छाया रहा।

तेज अंधड़ के साथ ओलावृष्टि

कोटकासिम क्षेत्र में शाम के समय बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। तेज अंधड़ से विद्युत पोल एवं कई पेड़ धराशायी हो गए। हालांकि भीषण गर्मी से लोगों को निजात मिल गई। बारिश के बाद मौसम सुहाना हो गया। देर शाम तक बादल छाए रहे तथा रुक-रुककर बूंदाबांदी का दौर जारी रहा। तेज अंधड़ में विद्युत पोल टूटने से ग्रामीण क्षेत्रों की बिजली सप्लाई ठप हो गई। क्षेत्र के हरियाणा से सटे कई गांवों में ओलों के गिरने से सब्जी की फसलों को नुकसान होने अंदेशा जताया गया है। अंधड़ से उपखंड मुख्यालय की विद्युत सप्लाई कई घंटों ठप रही। क्षेत्रभर में तेज अंधड़ के साथ करीब 10 मिनट तक बैर के आकार के ओले गिरे। ओले के बाद बारिश का दौर शुरू हो गया। जो एक घंटे तक रुक-रुक कर जारी रहा।

Show More
Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned