सुबह पति ने कहा तलाक...तलाक...तलाक, रात को ससुर और उसक साथी ने हथियार के बल पर किया बलात्कार

Triple Talaq And Rape : महिला ने थाने में मामला दर्ज कराया है कि सुबह उसके पति ने उसे ट्रिपल तलाक दिया और रात को उसके ससुर ने उसके साथ बलात्कार किया।

By: Lubhavan

Published: 27 Nov 2019, 08:25 AM IST

अलवर. triple talaq And Rape : अलवर जिले के भिवाड़ी में एक सनसनीखेज ( Triple Talaq And Rape ) मामला सामने आया है। एक विवाहिता को सुबह उसके पति ने ( Triple Talaq ) तीन तलाक दिया और रात को उसके ससुर ने अपने साथी के साथ मिलकर हथियार के बल पर उसके साथ बलात्कार कर दिया। पीडि़ता ने इसकी शिकायत हाल ही बने भिवाड़ी के महिला थाने में की है। इसके बाद पुलिस ने पीडि़ता का मेडिकल कराया है। 25 वर्षीया पीडि़ता ने बताया कि उसकी भिवाड़ी के चौपानकी थाना क्षेत्र के एक गांव में वर्ष 2015 में शादी हुई थी। उसके पति ने सुबह उसे ट्रिपल तलाक दिया और रात को उसके ससुर ने हथियार की नोंक पर अपने एक साथी के साथ बलात्कार किया। पीडि़ता ने बताया कि उसका निकाह मुस्लिम रिती-रिवाज के साथ हुआ था। उसके पिता ने हैसियत के मुताबिक दहेज भी दिया था, लेकिन इसके बावजूद उसका पति, ससुर और देवर उसे दहेज के लिए लगातार प्रताडि़त कर मारपीट करते थे। पीडि़ता ने बताया कि इस दौरान उसने एक बच्ची को भी जन्म दिया।

सुबह तीन तलाक और रात को बलात्कार

पीडि़ता ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसके पति ने उसे 22 नवंबर की सुबह उसे तीन बार तलाक कहकर बेदखल कर दिया। उसी रात करीब 11-12 बजे ससुर एक जने के साथ कमरे में घुस गया। उसने पीडि़ता से कहा कि मेरे बेटे ने तुझे तलाक दे दिया है, अब तू मेरी पुत्रवधु नहीं है। ससुर के साथ आए व्यक्ति ने उसकी कनपटी पर कट्टा रख दिया और दोनों ने जबरन बलात्कार किया। बलात्कार के बाद धमकी दी कि अगर यह बात किसी को बताई तो वो जिंदा नहीं रहेगी।
अगले दिन सुबह पीडि़ता ने अपने पिता को आपबीती के बारे में बताया। पीडि़ता ने पिता के सहयोग से थाने में मामला दर्ज कराया। पीडि़ता के पिता भतीजे के साथ उसे लेने ससुराल गए तो उनके साथ मारपीट की गई। बाद में पुलिस उन्हें छुड़ाकर ले गई।

तीन तलाक को लेकर बना है कानून

पुलिस ने बताया कि धारा 498ए, 323, 376डी सहित 3,4 मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) एक्ट-2019 में मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच भिवाड़ी सीओ हरिराम कुमावत कर रहे हैं। तीन तलाक को लेकर बने नए मुस्लिम विवाह कानून में दर्ज किया गया है। यह जिले का पहला प्रकरण है। वहीं मामले की जांच कर रहे भिवाड़ी सीओ हरिराम कुमावत ने बताया कि पीडि़ता का मेडिकल मुआयना करा दिया है। महिला अधिकारी ने बयान दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned