अलवर: पति को हुआ पत्नी के चरित्र पर शक, सिर पर ताबड़तोड़ वार किए और कर डाली हत्या

अलवर के औद्योगिक क्षेत्र टपूकड़ा में पति ने पत्नी के चरित्र पर शक करते हुए उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

By: Lubhavan

Published: 22 Nov 2020, 10:52 PM IST

अलवर जिले के टपूकड़ा के पथरेड़ी औद्योगिक क्षेत्र के पास खोले में बंधे मिले महिला के शव के मामले में चौपानकी थाना पुलिस ने 24 घंटे में वारदात का खुलासा किया है। इस ब्लाइंड मर्डर में मृतका का पति ही हत्या का आरोपी निकला है। मृतका सरिता यादव (35) पत्नी कृष्ण कुमार (40) निवासी जैतपुर है। पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करा शव को परिजनों को सौंप दिया है तथा आरोपी पति को गिरफ्तार उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

चौपानकी थानाधिकारी मुकेश कुमार ने बताया कि शुक्रवार को शब्बीर मार्केट पथरेड़ी में महिला का शव मिला था। जिसकी शिनाख्त व आरोपी की तलाश के लिए एसपी राममूर्ति जोशी, अति. पुलिस अधीक्षक अरूण माच्या के पर्यवेक्षण एवं पुलिस उपाधीक्षक हरिराम कुमावत के निर्देशन में आरपीएस एसआईयूसीएडब्ल्यू सेल भिवाड़ी प्रेमबहादुर सिंह, प्रशिक्षु आरपीएस मुकेश चौधरी चौपानकी, भिवाड़ी फैज थर्ड, हरसौरा, मांढण थानाधिकारी की अलग-अलग टीमें गठित की गई थी। सभी टीमों ने घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण कर आस-पड़ोस, मृतका के परिवार, रिश्तेदारों से गहनता से पूछताछ की गई। मौके पर मोबाइल एफएसएल यूनिट अलवर, डॉग स्कवायड, एमओबी टीम व साइबर सैल को भी बुलाया गया। उन्होंने भी घटना स्थल का निरीक्षण किया। इन सभी प्रयासों के चलते शव की शिना त हो पाई। मृतका ओरियंटल क्रॉफ्ट चौपानकी में काम करती थी।

यूं आया पकड़ में

पुलिस ने बताया कि आरोपी कृष्ण कुमार (40) पुत्र जयनारायण यादव निवासी जैतपुर रिचा ग्लोबल कंपनी मानेशर हरियाणा में काम करता है। पत्नी चौपानकी में किराए के कमरे में रह कर ओरियंटल क्रॉफ्ट कंपनी में काम कर रही थीं। उसने कमरा बदल शब्बीर कॉलोनी में ले लिया। वह मानेशर से अपनी पत्नी के पास चौपानकी डेढ़-दो माह में मिलने आता था। घटना के बाद आरोपी पति से रिश्तेदार व परिचित फोन पर संपर्क करना चाहे तो फोन काटता रहा तथा बाद में फोन बंद कर लिया। जिससे वह संदेह के घेरे में आ गया और उसे मानेशर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार उससे गहनता से पूछताछ करने उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। पूछताछ में कृष्णकुमार ने बताया कि पत्नी ने उसे गुरुवार को फोन कर बताया था कि वह चौपानकी कमरे का हिसाब करने आ रही है तथा दूसरी कंपनी में गुरुग्राम में शुक्रवार को इंटरव्यू है। फिर उसने रास्ते में आकर फिर फोन किया कि वह तो अपने पीहर जा रही है। इस पर उसे शक होने पर वह चौपानकी कमरे पर रात करीब 9 बजे पहुंचा तो पत्नी सरिता कमरे पर मिली। इसके बाद दोनों सो गए। रात करीब 1 बजे आरोपी पति की आंख खुली और पत्नी के चरित्र पर संदेह होने लगा। उसी समय गुस्से में आकर उसने सोती हुई पत्नी पर लोहे की चारपाई के पाए से उसके सिर में ताबड़तोड़ वार कर दिया, जिससे वह बेहोश हो गई। सिर से खून बहने लगा। उसके बाद हाथ से उसका गला दबा दिया। वह मर गई तो शव रस्सी से बांधकर गद्दे के खोल में डाला तथा साथ में खून से सने तकिया व शॉल को उसी खोल में डाल दिया और पीठ पर लादकर उसकी कॉलोनी से करीब 50 मीटर दूर गंदे नाले में पटककर वापस कमरे पर आ गया। सुबह करीब 5 बजे अपने घर जैतपुर चला गया एवं शाम को मानेशर स्थित किराए के कमरे पर चला गया। जहां से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned