सरिस्का को लूट रहे पहरेदार, मिलीभगत से चल रहा है अवैध खनन का खेल

Rajeev Goyal

Publish: Feb, 15 2018 09:08:50 AM (IST)

Alwar, Rajasthan, India
सरिस्का को लूट रहे पहरेदार, मिलीभगत से चल रहा है अवैध खनन का खेल

अलवर के सरिस्का में मिलीभगत से अवैध खनन का खेल चल रहा है, विकास कार्यों के नाम पर खोद रहे हैं पहाड़।

अलवर. कहावत है कि जब बाड़ ही खेत को खाने लगे तो खेत को बर्बाद होने से कोई नहीं बचा सकता। ऐसा ही सरिस्का बाघ परियोजना के साथ हो रहा है। सरिस्का को उसके ही पहरेदार लूट रहे हैं।
यहां रोक के बावजूद बड़े पैमाने पर अवैध खनन का खेल चल रहा है, जिसमें सरिस्का के अधिकारी-कर्मचारियों की संलिप्तता भी बताई जा रही है। जो क्रिटिकल टाइगर हैवीटाट में स्थित अरावली की पहाडिय़ों को खोद उसके पत्थर से विकास कार्यों को अंजाम दिला रहे हैं। ताजा मामला सदर गेट सरिस्का से टाइगर डेन तिराया तक सडक़ को चौड़ा करने के काम का है। सरिस्का में इन दिनों सरिस्का टाइगर डेन तिराया से सदर गेट तक सडक़ का चौड़ाईकरण कार्य चल रहा है।
जानकारी के अनुसार इस काम में सरिस्का की पहाडिय़ों का पत्थर उपयोग में लिया जा रहा है। जो भर्तृहरि तिबारा से अवैध खनन कर लाया और सडक़ के लिए खोदी गई नींव में डाला जा रहा है। यदि यह सच है तो बेहद गंभीर मामला एवं वन नियमों का उल्लंघन है। वन्य संरक्षण अधिनियम 1972 के अनुसार सरिस्का में अवैध खनन तो दूर वाहन से नीचे उतरना भी दण्डनीय अपराध है।

दोपहर में चलता है खेल

जानकारों के अनुसार सरिस्का में अवैध खनन का खेल दोपहर में चलता है। दरअसल, सरिस्का में सुबह 10.30 बजे तक पर्यटक भ्रमण कर लौट आते हैं। इसके बाद दोपहर करीब ढाई बजे पर्यटकों को सरिस्का में प्रवेश दिया जाता है। बीच का यह वक्त वन्य जीवों के आराम का समय माना जाता है। बस, इसी घड़ी में सरिस्का में अवैध खनन का खेल चलता है और ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में भरकर अवैध खनन का पत्थर सरिस्का से बाहर निकलता है।

सरकारी कर्मचारी कर रहे ठेकेदारी !

सरिस्का में मिलीभगत का खेल इस कदर हावी है कि यहां सरकारी कर्मचारी ही ठेकेदार बने बैठे हैं। जो न सिर्फ सरिस्का में होने वाले विकास कार्यों के ठेके लेते हंै, बल्कि सरिस्का में चल रहे अवैध खनन में भी सहभागी हैं। इनके पास कार्य कराने का न तकनीकी ज्ञान है और न योग्यता। इसके बावजूद हर बार सरिस्का में विकास कार्यों की जिम्मेदारी इन्हें सौंप दी जाती है। जानकारी के अनुसार सरिस्का में चल रहा टाइगर डेन तिराहा से लेकर सदर गेट तक सडक़ को चौड़ा करने का कार्य भी ऐसे ही एक सरकारी कर्मचारी ने संभाल रखा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned