अलवर के MIA में यूपी के पूर्व मंत्री की फर्म पर आयकर विभाग की कार्रवाई, प्लांट का टर्नओवर जानकर उड़ जाएंगे आपके होश

मुलायम सिंह सरकार में मंत्री रह चुके शिव कुमार राठौड़ की कंपनी पर आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है।

By: Hiren Joshi

Published: 07 Feb 2019, 08:55 AM IST

अलवर. उत्तरप्रदेश की पूर्व मुलायम सरकार में मंत्री रहे शिव कुमार राठौड़ के बेटे की शादी के ठीक सात दिन पहले बुधवार को अलवर के एमआईए स्थित उनकी तेल मिल में आयकर विभाग की कार्रवाई हुई है। अधिकारी देर शाम तक कार्रवाई में जुटे रहे। चर्चा इस बात को लेकर अधिक है कि इस प्लांट का उद्घाटन करने के लिए उत्तरप्रदेश सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आए थे।

एमआईए स्थित महेश एडिबल ऑयल इण्डस्ट्री प्रालि. आधुनिक तेल मिल का यह प्लांट करीब 25 हजार वर्गमीटर क्षेत्र में हैं। इस अकेले प्लांट का टर्नओवर भी करीब 500 करोड़ रुपए के आसपास सालाना बताया गया है। इस फर्म से जुड़े मालिकों के आगरा व कोटा में भी तेल मिल के प्लांट हैं। एमआईए में बुधवार सुबह करीब छह बजे से ही आयकर विभाग की उत्तरप्रदेश, जयपुर और अलवर के करीब दो दर्जन से अधिकारी व कर्मचारियों की टीम कार्रवाई में जुटी रही। हालांकि अभी यह खुलासा नहीं हो पाया है कि आयकर विभाग की यह सर्वे की कार्रवाई है या फिर फैक्ट्री पर छापा मारा गया है। इस बारे में आयकर विभाग के अधिकारी कुछ नहीं बोल रहे। आयकर की कार्रवाई शुरू होने के बाद पूरे प्रदेश में तुंरत इसकी चर्चा हो गई। राजस्थान में कोटा, अलवर के अलावा नई दिल्ली, आगरा व कानपुर में भी प्रतिष्ठान हैं। कानपुर व दिल्ली के प्रतिष्ठान अलग फर्म के नाम से हैं।

आगरा व कोटा में भी कार्रवाई

इसी फर्म के मालिकों से जुड़े तेल मिल के प्लांट कोटा व आगरा में भी हैं। वहां भी सुबह करीब छह बजे से कार्रवाई होने की जानकारी मिली है।

दरवाजे पर कुंडी, अंदर पुलिस जाप्ता

आयकर विभाग के अधिकारियों के आदेश पर सुरक्षा गार्डों ने फैक्ट्री के मुख्य दरवाजे की कुंडी बंद की हुई थी। अंदर मीडियाकर्मियों को नहीं जाने दिया। आयकर विभाग के अधिकारी फैक्ट्री के अंदर कार्रवाई में जुटे हुए थे। वहीं, फैक्ट्री परिसर में पुलिस जाप्ता तैनात था और आयकर विभाग की टीम की उत्तरप्रदेश, जयपुर और अलवर नम्बर की गाडिय़ां खड़ी हुई थी। कार्रवाई के लिए पुलिस जाप्ता भी पुलिस लाइन से लिया गया। स्थानीय थाना पुलिस को कार्रवाई की सूचना नहीं दी गई।

26 ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई

देश भर में खाद्य तेल एवं फूड सप्लीमेंट तैयार करने वाले उत्तर प्रदेश के औद्योगिक समूह के राजस्थान के अलवर, कोटा और जोधपुर के तीन समेत चार राज्यों में मौजूद 26 ठिकानों पर बुधवार सुबह आयकर की जांच शाखा ने छापा मारा। प्रधान निदेशक (आयकर) जांच अमरेन्द्र कुमार के निर्देशन में विभाग के 200 से ज्यादा कर्मचारी और अफसरों की टीम ने कंपनी के राजस्थान स्थित अलवर, कोटा और जोधपुर के तीन, उत्तर प्रदेश के आगरा, मथुरा और लखनऊ स्थित 22, कोलकाता और दिल्ली में एक-एक ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। लखनऊ में छापेमारी के दौरान आयकर टीमों को कंपनी से जुड़े वाहन से पांच करोड़ रुपए की नकदी मिली है। इस कार्रवाई का समन्वय संयुक्त निदेशक जांच तरुण कुमार कुशवाह ने किया। जांच में विभाग के उप निदेशक राजेश कुमार गुप्ता एवं सहायक निदेशक योगेन्द्र कुमार मिश्रा भी शामिल हैं।

देर शाम तक कार्रवाई, सभी के फोन बंद

आयकर विभाग की टीम की अलवर में महेश एडिबल ऑयल इण्डस्ट्री प्रालि. पर देर शाम तक कार्रवाई जारी रही। फैक्ट्री प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार आयकर विभाग के अधिकारी फैक्ट्री के अकाउंट और स्टॉक आदि की जांच कर रहे हैं। आयकर विभाग के अधिकारियों ने फैक्ट्री प्रबंधन के सभी अधिकारी और कर्मचारियों के मोबाइल बंद करा अपने पास रख लिए। वहीं, जांच से सम्बन्धित फैक्ट्री के अधिकारी और कर्मचारियों को बाहर भी नहीं जाने दिया।

इन बिन्दुओं पर भी हो रही जांच

पात्रता के बिना समूह से जुड़ी कंपनियों को बड़े ठेके कैसे मिले
कच्चा माल न होने के बावजूद सरसों तेल का बड़े पैमाने पर उत्पादन
तेल और खाद्य पदार्थों में मिलावट की आशंका
नई यूनिट खड़ी करने के नाम पर खर्च और कमाई की बोगस एंट्री

Hiren Joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned