अलवर में खत्म करने के नाम पर इस तरह दे रहे हैं प्रदूषण को बढ़ावा, प्रशासन जानकर भी मौन

अलवर में कई फैक्ट्रियां प्रदूषण को खुलेआम बढ़ावा दे रही है, लेकिन प्रशासन सब कुछ जानकर भी चुप है।

By: Prem Pathak

Published: 25 Apr 2018, 02:27 PM IST

नीमराणा. रीको के स्थानीय अधिकारियों की अनदेखी एंव लापरवाही के चलते रीको के फेज-एक के औधौगिक क्षेत्र स्थित ग्रीन पार्क में दर्जनों उद्योग तरल केमिकल वेस्ट छोड़ रहे हैं। जिसके कारण पार्क की हरियाली उजड़ रही है। वहीं दूसरी तरफ इस गंदे पानी का पार्क में तालाब बना रहने से आसपास की औद्योगिक इकाइयों में काम करने व कॉलोनियों में रहने वाले लोग दुर्गन्ध से परेशान हैं। जिससे सांस व चर्म रोग जैसी बीमारियां फैलने की आशंका बनी हुई है।

ये है उद्योग प्लाट अलॉटमेंट के नियम

नियमानुसार रीको जब भी किसी उद्योग लगाने के लिए प्लाट (भूखंड) अलॉटमेंट करती है तो रीको की शर्त होती है कि उस भूखण्ड पर लगने वाला उद्योग प्रदूषण रहित होगा। बारिश के वेस्ट जल के अलावा जीरो प्रतिशत पॉल्यूशन रखेंगे। अन्यथा रीको प्लाट कैंसिलेशन कर सकती है। जबकि यहां का हर उद्योग पॉल्यूशन फैलाने मे लगा है। नियमों की धज्जियां उड़ते देख रीको के अधिकारी मौन हैं। दोषी उद्योगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करते है।

गांवों में फैलती है बदबू

रीको के पार्को व नालों में छोड़े जा रहे केमिकल वेस्ट और प्रदूषित पानी से माधोसिंहपुरा, प्रतापसिंहपुरा, माजरा काठ व नीमराणा कस्बा की साथ लगती आबादी में हवा के साथ हर वक्त बदबू आती रहती है। जिससे ग्रामीणों के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ता है।

मंत्रियों तक शिकायत

समस्या को लेकर नीमराणा प्रधान सविता यादव व सरपंच सतीश मुद्गल पिछले साल एसडीएम कार्यलय शिलान्यास कार्यक्रम में आए मंत्री हेमसिंह भड़ाना के समक्ष समस्या को रखा, लेकिन इसके बाद भी कार्रवाई के नाम पर लीपापोती होती रही है।

समस्या संज्ञान में है। प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों को चिह्नित कर नोटिस देने की करवाई की जाएगी। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड से भी जांच के लिए पत्र लिखेंगे। नियम की पालना नहीं करने वाले दोषी उद्योगों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
आर के सिंह
रीजनल मैनेजर रीको कार्यालय, नीमराणा

Show More
Prem Pathak Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned