हथियारों की खेप के साथ पकड़ा अंतरराज्यीय तस्कर मूसा

तस्कर के कब्जे से सात अवैध हथियार बरामद

अलवर. अरावली विहार थाना पुलिस और डीएसटी (जिला स्पेशल टीम) ने गुरुवार को अंतरराज्यीय हथियार तस्कर मूसा खां को गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से सात अवैध हथियार बरामद हुए हैं। आरोपी कई मामलों में अलवर पुलिस का वांछित अपराधी है।
जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने प्रेसवार्ता में बताया कि अवैध हथियार सप्लायरों पर कार्रवाई के लिए विशेष टीम गठित की गई है। गुरुवार को पुलिस टीम को सूचना मिली कि उत्तरप्रदेश का एक व्यक्ति अलवर में अवैध रूप से हथियार सप्लाई करने आ रहा है। यह व्यक्ति मंडी मोड़ पर किसी साधन से उतरकर अपने गंतव्य तक पहुंचेगा। इस पर अरावली विहार थानाधिकारी जहीर अब्बास टीम लेकर रवाना हुए और मंडी मोड़ पर पहुंचकर मुखबिर के बताए हुलिए के व्यक्ति की तलाश शुरू की। इसी दौरान कुर्ता-पायजामा पहने एक व्यक्ति मंडी मोड़ पर खड़ी बसों के पीछे से अपने आप को छुपाते हुए तेज कदमों से रेलवे पुलिया की तरफ जाता नजर आया। जिसके हाथ में प्लास्टिक का कट्टा था। जिसे पुलिस टीम ने पकड़कर नाम-पता पूछा तो उसने अपने नाम मूसा खां (५२) पुत्र ताज खां निवासी जंघावली थाना शेरगढ़ जिला मथुरा-यूपी बताया। तलाशी के दौरान उसके पास प्लास्टिक के कट्टे से एक बड़ी बंदूक, पांच देसी कट्टे और एक देसी पिस्टल बरामद हुई। पुलिस ने आम्र्स एक्ट का मामला दर्ज कर हुए आरोपी मूसा खां को गिरफ्तार कर अवैध हथियारों को जब्त कर लिया। कार्रवाई में डीएसपी दीपक शर्मा, अरावली विहार थानाधिकारी जहीर अब्बास, डीएसटी के एएसआई कासम खां, कांस्टेबल राजाराम, हरिओम, ईरसाद मोहम्मद, करतार सिंह, देवकीनंदन और रामकुमार आदि शामिल रहे।


मूसा के खिलाफ पूर्व में ११ मामले दर्ज

प्रारम्भिक पूछताछ में सामने आया है कि मूसा खां के खिलाफ पूर्व में मथुरा जिले के शेरगढ़ और छाता पुलिस थानों में ११ आपराधिक प्रकरण संगीन धाराओं में दर्ज हैं। वर्ष-२००० में मूसा एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर चुका है। जिस प्रकरण में जेल से जमानत होने के बाद मूसा एक हत्या के प्रयास में भी जेल जा चुका है। वहीं, अलवर जिले के लक्ष्मणगढ़, कठूमर और गोविंदगढ़ थानों में दर्ज तीन प्रकरणों में वांछित चल रहा है।


मूसा के कुख्यात गिरोह से सम्पर्क

अंतरराज्यीय हथियार तस्कर मूसा के भरतपुर जिले की कुख्यात वाहन चोरी बुल्टी गैंग, अरशद व सुरेश गुर्जर गैंग से भी सम्पर्क हैं।
अलवर सहित जयपुर व दौसा में देने थे हथियार: अभी तक की पूछताछ में यह भी सामने आया है कि मूसा खां उत्तरप्रदेश के मथुरा व अलीगढ़ आदि कई अलग-अलग जगहों से हथियार लेकर अलवर आया था। जिसे अलवर सहित जयपुर व दौसा में हथियार सप्लाई करने थे।

Pradeep Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned