पुलिस से बचने के लिए तीसरी मंजिल से कूद कर भागा लेकिन बच नहीं सका

पुलिस से बचने के लिए तीसरी मंजिल से कूद कर भागा लेकिन बच नहीं सका

| Publish: Apr, 17 2017 06:40:00 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

भिवाड़ी. व्यापारियों को फोन से फिरौती की धमकी, अपहरण, जबरन बसूली, लूटपाट, डकैती, जानलेवा हमले, अवैध हथियार और वारदात कर भागते समय पुलिस पर फायरिंग के मुख्य आरोपित विनोद (22) पुत्र सूरज निवासी नंगलिया को गिरफ्तार किया है।

भिवाड़ी. व्यापारियों को फोन से फिरौती की धमकी, अपहरण, जबरन बसूली, लूटपाट, डकैती, जानलेवा हमले, अवैध हथियार और वारदात कर भागते समय पुलिस पर फायरिंग के मुख्य आरोपित विनोद (22) पुत्र सूरज निवासी नंगलिया को गिरफ्तार किया है।



भागने का प्रयास 


यूआईटी थाना पुलिस ने रविवार रात को  मुखबिर की सूचना पर घेराबंदी की। पुलिस से घिरने के बाद आरोपित ने तीसरी मंजिल से कूदकर भागने का प्रयास किया, जिसमें आरोपित के हाथ पैरों में चोट आई हैं। उसका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। 



मुखबिर से सूचना मिली


एएसपी राजेंद्र ङ्क्षसह खौंथ और पुलिस उपाधीक्षक सिद्धांत शर्मा ने बताया कि 10 अप्रेल की रात को खिदरपुर जाने वाले रास्ते पर छह लोग डकैती की योजना बना रहे थे। जिसकी सूचना मुखबिर से मिली। आरोपितों की घेराबंदी की गई। दो आरोपित भोलू उर्फ प्रशांत पुत्र चतुर ङ्क्षसह निवासी बिलोचपुर जिला पलवल और जितेन्द्र पुत्र सतीश निवासी हरला की ढ़ाणी गोधान को हथियार सहित गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि विनोद पुत्र सूरज निवासी नंगलिया, टेकचंद उर्फ टेका पुत्र बचन ङ्क्षसह बिलोचपुर जिला पलवल, विक्की उर्फ विकास पुत्र कर्मवीर बिलोचपुर जिला पलवल और रतीराम अंधेरे का फायदा उठाकर फायरिंग करते हुए पहाडिय़ों से फरार हो गए। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए थानाधिकारी महावीर ङ्क्षसह, नरेश शर्मा, सुनील जांगिड़ और जहीर अब्बास के नेतृत्व में चार टीमों का गठन किया गया। 



मुखबिर से सूचना मिली


रविवार रात को मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपित विनोद और टेकचंद सेक्टर तीन स्थित निर्माणाधीन फ्लैट में छिपे हुए हैं। पुलिस से घिरने के बाद दोनों आरोपितों ने तीसरी मंजिल से छलांग लगाकर भागने का प्रयास किया। जिसमें दोनों घायल हो गए।  



पुलिस पर भी की फायरिंग


पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आरोपी विनोद और टेकचंद भिवाड़ी गांव में दुकानदार पर फायरिंग, 23 जनवरी को हेतराम चौक पर छत्रपाल निवासी आलमपुर पर फायरिंग, उसी रात को तत्कालीन एसएचओ राजीव राहड व पुलिस जाप्ता पर फायरिंग, 10 अप्रेल को बंधक बनाकर अपहरण और बिलोचपुर में टप्पल के व्यापारी से लूट की वारदातों में वांछित हैं। 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned